DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

New traffic fines:गाड़ी के कागज, हेल्मेट और सीट बेल्ट ही नहीं, इस वजह से भी हो सकता है चालान

traffic police charging penalty for violation traffic norms  file pic

देश में नए ट्रैफिक नियमों के तहत भारी जुर्माने का प्रावधान किए जाने से लोग पहले ही डरे हुए हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश पुलिस ने कई जगह नए फरमान जारी किए है। इसमें जुर्माना आपको कागज, हेल्मेट या सीट बेल्ट नहीं बल्कि अन्य वजहों से लगेगा। 

इसमें लखनऊ में एसपी ट्रैफिक ने नया फरमान जारी किया है। इसके मुताबिक, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अगर कोई बरमूडा, शॉर्ट्स या लुंगी पहनकर ड्राइविंग करेगा, तो उसे चार गुना जुर्माना भरना पड़ेगा। एसपी ट्रैफिक पूर्णेन्दु सिंह ने कहा कि सभी मोटर गाड़ी चलाने वालों के लिए खास तौर से ड्रेस कोड होगा। इस ड्रेस कोड में पैंट, शर्ट एवं जूते शामिल हैं। मोटर ड्राइविंग के समय लुंगी या कोई और ड्रेस पहनने पर अब 2000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।

New Traffic Fines: जानें, कहां हुआ अब तक का सबसे बड़ा चालान

वहीं मुरादाबाद में भी चप्पल, सेंडिल या फिर लुंगी पहनकर बाइक दौड़ाने वाले सावधान हो जाएं। नियम तोड़ने वालों को जेल की हवा खानी पड़ेगी। पहली बार पकड़े जाने पर एक हजार रुपए का जुर्माना देना होगा। अगर दोबारा ऐसा करते पकड़े गए तो पंद्रह दिन की जेल भी हो सकती है। नियम को सख्ती से पालन कराने के लिए एसएसपी ने ट्रैफिक पुलिस को निर्देश जारी किए हैं।

जिले में हर रोज हादसे में लोगों की जान जा रही है। मरने वालों में ज्यादातर स्कूटी व बाइक सवार शामिल हैं। जिले में पचास से ऐसे परिवार हैं जिन्होंने हादसे में घर के चिराग को खोया है। बुद्धिविहार में इकलौते बेटे की मौत से कारोबारी तो सुधबुध ही खो बैठे हैं। हिमगिरी में कुल दीपक की मौत ने पूरे परिवार को झकझोर दिया। पांच बहनों के बीच वह इकलौता भाई था। दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए यातायात नियमों को सख्त किया गया है। इसके तहत चप्पल, लुंगी, बरमूडा पहनकर बाइक दौड़ाने वालों का चालान काटा जाएगा। नियम के तहत पहली बार यदि नियम तोड़ते पकड़े जाने पर एक हजार रुपए का जुर्माना अदा करना होगा। इसके अलावा अगर दोबारा नियम तोड़ते रंगे हाथ पकड़े जाने पर कम से कम पंद्रह दिन जेल भी जाना पड़ सकता है।

New Traffic Fines:चालान भरने को पहले मिलता था एक महीने का समय और अब..

'गणपति' ने मोदक खिलाए:

गुजरात में ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरूक करने और लोगों को उनका पालन करने के लिए प्रेरित करने को राजकोट यातायात पुलिस ने अनोखा कदम उठाया है। उसने दो पुलिस कर्मियों को गणपति की वेशभूषा में तैनात किया है, जो हेलमेट पहन चलाने वालों को मोदक खिलाकर सराह रहे हैं। यातायात पुलिस ने यह पहल 'बोलबाला' नामक संस्था के सहयोग से शुरू की है। हेलमेट पहनकर दुपहिया चलाने वालों का मुंह मीठा कराने के साथ ही उन्हें एक सराहना प्रमाणपत्र भी दिया जा रहा है। एसीपी राजकोट अजय चौधरी ने कहा, हम सुनिश्चित कर रहे हैं कि लोग हेलमेट पहनें, जो अनिवार्य है। इससे जागरूकता फैलेगी और लोग यातायात नियम का पालन करने को प्रेरित होंगे।

गुजरात सरकार ने जुर्माना घटाया 

गुजरात सरकार ने देशभर में हाल में लागू नये मोटर व्हिकल कानून के तहत निर्धारित भारी जुर्माना राशि को मंगलवार को घटाकर कम कर दिया है। अब बिना हेलमेट दुपहिया चलाने पर 500 रुपये का जुर्माना लगेगा, जो पहले 1,000 रुपये था। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि नये कानून में अधिकतम जुर्माना तय करने की सलाह दी गई है और उनकी सरकार ने इस पर एक गहन विचार-विमर्श के बाद इसे घटा दिया है।

New Traffic Fines Effect:पॉल्यूशन सेटिफिकेट को बनाने में लगते है घंटों
 
जुर्माने के 500 रुपये से हेलमेट दिया

ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में यातायात पुलिस दोपहिया वाहन चालकों से 500 रुपये जुर्माना लेकर उन्हें मौके पर ही हेलमेट दे रही है। राज्य ट्रैफिक पुलिस के इस प्रयास को काफी सराहा जा रहा है। बिना हेलमेट दुपहिया लेकर निकले लोगों को 500 का जुर्माना चुकाना पड़ रहा है। हालांकि, इसके बदले उन्हें हाथों हाथ हेलमेट मिल रहा है। वहीं नियमों का पालन करने वाले दुपहिया चालकों को ‘थैंक यू’ कार्ड दिया जा रहा है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:New traffic fines: Not only the vehicle paper helmet and seat belt it can also be reason of traffic challan Know about this