ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशसीएम शिंदे के दौरे से चिढ़े नक्सली, पुलिस के मुखबिर की निर्मम हत्या, पत्थर से कुचल दिया सिर

सीएम शिंदे के दौरे से चिढ़े नक्सली, पुलिस के मुखबिर की निर्मम हत्या, पत्थर से कुचल दिया सिर

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे कमांडोज से मिलने गढ़चिरौली पहुंचे थे। इसके बाद नक्सलियों ने एक युवक की निर्मम हत्या कर दी और उसके पास ही धमकीभरा पत्र छोड़ा।

सीएम शिंदे के दौरे से चिढ़े नक्सली, पुलिस के मुखबिर की निर्मम हत्या, पत्थर से कुचल दिया सिर
Ankit Ojhaलाइव हिंदुस्तान,नागपुरFri, 17 Nov 2023 12:17 PM
ऐप पर पढ़ें

महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले में गुरुवार को नक्सलियों ने एक 27 साल के युवक को मौत के घाट उतार दिया। शव के पास नक्सलियों ने धमकीभरा एक नोट भी छोड़ा जिसमें युवक के पुलिस का पूर्व मुखबिर होने की बात कही गई थी। इसके अलावा नक्सलियों ने लोगों को धमकी भी दी। बता दें कि मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे दंडकारण्य के जंगलों में नक्सलियों का सामना करने वाले कमांडरों का हौसला आफजाई करने भी पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि सीएम के दौरे से चिढ़े नक्सलियों ने इस घटना को अंजाम दिया है। युवक का नाम दिनेश पुसु गावड़े है और वह गांव के मुखिया का चुनाव भी लड़ चुका था।

दंडकारण्य से 150 किलोमीटर की दूरी पर भामरागढ़ तहसील के पेनगुंडा गांव में यह हत्या की गई। पुलिस का कहना है कि युवक की हत्या पहले धारदार हथियार से की गई और इसके बाद पत्थरों से उसका सिर कुचल दिया गया। लोगों का कहना है कि सीएम के दौरे की वजह से नक्सलियों ने अपना खौफ कायम करने के लिए ऐसा किया है। वहीं पुलिस का कहना है कि राजनीतिक विरोध की वजह से युवक की हत्या की गई है. इसका सीएम के दौरे से कोई लेनादेना नहीं है। 

बता दें कि मृतक गावड़े भामरगढ़ तालुका का रहने वाला था और उसके पास कई ट्रैक्टर थे। पिछली बार उसने ग्राम पंचायत का चुनाव लड़ा था लेकिन हार गया था। गढ़चिरौली जिले में नक्सलियों ने चुनाव का बहिष्कार किया था और उनके डर से वोट प्रतिशत भी काफी कम था। पुलिस के मुताबिक गावड़े बुधवार को देर रात नेलगोंड जा रहा था। तभी रास्ते में माओवादियों ने उसे खेर लिया। माओवादियों ने शव पर एक पर्चा छोड़ दिया जिसमें लिखा था कि युवक पुलि को जानकारियों देता था। पुलिस के सूत्रों का कहना है कि इस हत्या का मास्टरमाइंड राजू वेलाडी है जो कि एरिया कमिटी का डिविजनल कमेटी मेंबर है। 

इस इलाके में एक साल के अंदर यह नक्सलियों द्वारा की गई दूसरी हत्या है। इससे पहले साइनाथ नरोटे की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद सी-60 कमांडोज ने नरोटे की हत्या करने वाले बितलू मादावी को भी मार गिराया था। नक्सिलियों से निपटने की रणनीति बनाने और कमांडरों में उत्साह भरने के लिए सीएम शिंदे गढ़चिरौली पहुंचे थे। महाराष्ट्र की सरकार ने गढ़चिरौली में नक्सली हिंसा को रोकने और निवेश करने का प्लान बनाया है। इसके अलावा कई आर्थिक स्कीमों का ऐलान किया गया है। आदिवासी बच्चों की शिक्षा के लिए भी कई घोषणाएं हुई हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें