DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नौसेना, थल सेना ने मेघालय के कोयला खान में अभियान रोकने का फैसला किया

meghalaya mine accident

मेघालय के पूर्वी जयंतिया हिल्स जिले में अवैध कोयला खदान में फंसे 15 खनिकों की तलाश को लेकर 60 दिनों के अभियान के बाद नौसेना और थल सेना के बचावकर्मियों की एक टीम ने शुक्रवार को अभियान स्थल से जाने की घोषणा की। 

अभियान के प्रवक्ता आर सुसंगी ने बताया कि नौसेना और थल सेना ने स्थानीय प्रशासन को अपने वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर अभियान बंद करने और वहां से जाने के बारे में अवगत करा दिया। हालांकि, पिछले साल 13 दिसंबर को घटना के दिन से ही बचाव अभियान में शामिल राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के कर्मी अपना काम जारी रखेंगें।

PM मोदी कश्मीरी छात्रों को निशाना बनाये जाने पर चुप क्यों हैं : उमर

गुवाहाटी स्थित एनडीआरएफ टीम के सहायक कमांडेंट संतोष सिंह ने घटना स्थल से शुक्रवार को पीटीआई-भाषा को बताया, ''हमें अभियान समेटने का निर्देश नहीं मिला है और हम अपना काम जारी रखेंगे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Navy and Army decide to wind up operation in Meghalaya coal mine tragedy