DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमरिंदर ने कतरे नवजोत सिंह सिद्धू के पर, स्थानीय निकाय विभाग से हटाया

amarinder   s media adviser raveen thukral said the cm   s office  cmo  had invited all the ministers an

1 / 2Amarinder’s media adviser Raveen Thukral said the CM’s office (CMO) had invited all the ministers and MLAs for the meeting. However, Sidhu’s wife Navjot Kaur denied getting any message.(PTI FILE)

2 / 2नवजोत सिंह सिद्धू और अमरिंद सिंह

PreviousNext

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने कैबिनेट सहयोगी नवजोत सिंह सिद्धू के पर कतरते हुए गुरुवार की दोपहर को स्थानीय निकाय विभाग से हटा दिया है। यह फैसला क्रिकेट से राजनीति में आए नवजोत सिंह सिद्धू की तरफ से कैबिनेट की बैठक में न जाने और प्रेस कॉन्फ्रेंस कर नवजोत सिद्धू के खिलाफ बोलने के बाद किया गया है।

मुख्यमंत्री की तरफ से राज्यपाल को सिद्धू से स्थानीय निकाय विभाग से हटाने की सलाह देने के कुछ मिनट बाद सिद्धू ने संवाददाताओं से कहा- “मुझे हल्के में नहीं लिया जा सकता है... मैं पंजाब के लोगों के प्रति जवाबदेह हूं।” कैप्टन अमरिंदर ने इस विभाग को अभी अपने पास ही रखने का फैसला किया है।

हालांकि, सिद्धू के पास पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय का भार है। वह कैबिनेट मंत्री भी बने रहेंगे। लेकिन, अमरिंदर सिंह की तरफ से स्थानीय विभाग छीनना सिद्धू के लिए एक कड़ा संदेश है।

कैबिनेट बैठक में नहीं पहुंचे सिद्धू

इससे पहले, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंद सिंह के साथ गहराते विवाद के संकेत के बीच पिछले महीने खत्म हुए लोकसभा चुनाव के बाद गुरुवार को बुलाई गई पहली कैबिनेट मीटिंग में स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू नहीं पहुंचे।

ऐसा दूसरी बार है जब कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में आधिकारिक बैठक के दौरान स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू न पहुंचे हों। नवजोत सिद्धू का विभाग बदलने पर भी जोरशोर से अटकलें लगाई जा रही थी।

इससे पहले, सोमवार को स्थानीय निकाय मंत्री की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने कहा था कि पंजाब कांग्रेस विधायक, कैबिनट मंत्री और नए चुने गए सांसदों की 30 मई को रखी गई बैठक में उनके पति को नहीं बुलाया गया था, इसलिए वे वहां पर नहीं गए।

अमरिंदर के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने कहा कि मुख्यमंत्री के कार्यालय (सीएमओ) की तरफ से सभी मंत्रियों और विधायकों को बैठक में आमंत्रित किया गया था। हालांकि, सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने ऐसे किसी संदेश के मिलने से इनकार किया।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान पर सिद्धू के बयान और स्थानीय निकाय विभाग को ठीक से हैंडल न कर पाने को शहरी इलाकों में पार्टी के खराब प्रदर्शन की वजह बताते हुए मंत्रियों के विभाग में बंटवारे की घोषणा की थी।

ये भी पढ़ें: चुनावी रैली में बोले नवजोत सिद्धू, 'तोप हैं राहुल गांधी और मैं AK-47'

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Navjot Singh Sidhu did not attend cabinet meeting Chaired by Punjab CM Capt Amrinder Singh