ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशAI वाले कैमरे, चप्पे-चप्पे पर स्नाइपर-कमांडो, एंटी ड्रोन सिस्टम भी एक्टिव; PM मोदी के शपथ ग्रहण को G-20 जैसी सुरक्षा

AI वाले कैमरे, चप्पे-चप्पे पर स्नाइपर-कमांडो, एंटी ड्रोन सिस्टम भी एक्टिव; PM मोदी के शपथ ग्रहण को G-20 जैसी सुरक्षा

राष्ट्रपति भवन में रविवार शाम को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीसरे शपथ ग्रहण समारोह में दुनियाभर से मेहमान पहुंचेंगे। इसे देखते हुए दिल्ली पुलिस ने जी-20 की तर्ज पर सुरक्षा व्यवस्था की है।

AI वाले कैमरे, चप्पे-चप्पे पर स्नाइपर-कमांडो, एंटी ड्रोन सिस्टम भी एक्टिव; PM मोदी के शपथ ग्रहण को G-20 जैसी सुरक्षा
Praveen Sharmaनई दिल्ली। हिन्दुस्तानSun, 09 Jun 2024 06:50 AM
ऐप पर पढ़ें

राष्ट्रपति भवन में रविवार शाम को होने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीसरे शपथ ग्रहण समारोह में देश-विदेश से अनेक मेहमान पहुंचेंगे। इसे ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस ने जी-20 की तर्ज पर सुरक्षा व्यवस्था की है। दिल्ली एयरपोर्ट से लेकर विदेशी मेहमानों के ठहरने वाले होटलों और वहां से राष्ट्रपति भवन तक के रूट पर पैनी नजर रखी जा रही है।

समारोह में आने वाले अधिकांश विदेशी मेहमान रविवार सुबह दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे। वहां से उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच होटल तक पहुंचाया जाएगा। विदेशी अतिथियों के लिए नई दिल्ली स्थित बड़े होटलों को बुक किया गया है। इन होटलों में पुलिस का कड़ा पहरा होगा। प्रत्येक होटल की सुरक्षा का जिम्मा डीसीपी स्तर के अधिकारी को दिया जाएगा।

होटल से शाम को विदेशी मेहमान राष्ट्रपति भवन जाएंगे। होटल से लेकर राष्ट्रपति भवन तक न केवल पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे बल्कि उनके रूट पर कैमरों से निगरानी रखी जाएगी। इसके लिए एआई से लैस कैमरों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इन कैमरों के समक्ष अगर किसी भी प्रकार की गड़बड़ी दिखेगी तो वह तुरंत अलर्ट भेजेंगे। होटल के साथ ही राष्ट्रपति भवन के आसपास पुलिस द्वारा सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त रहेंगे।

सुरक्षा बंदोबस्त को लेकर स्पेशल कमिश्नर स्तर के अधिकारी खुद जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। दिल्ली पुलिस के सुरक्षा, यातायात, नई दिल्ली जिला पुलिस, एयरपोर्ट पुलिस आदि मिलकर समारोह की सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे। वहीं, केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियां भी यहां पर तैनात रहेंगी। राष्ट्रपति भवन और उसके आसपास के क्षेत्र में दो हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। इसके अलावा सादे कपड़ों में भी पुलिसकर्मी गश्त करेंगे।

ऊंची इमारतों से भी निगरानी की जाएगी : सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए दिल्ली पुलिस द्वारा नई दिल्ली की ऊंची इमारतों पर स्नाइपर का इस्तेमाल किया जाएगा। यह स्नाइपर वीवीआईपी रूट के अलावा राष्ट्रपति भवन के आसपास के क्षेत्र पर भी नजर रखेंगे। उन्हें अगर कुछ संदिग्ध दिखा तो वह तुरंत इसकी सूचना रूट पर खड़े पुलिसकर्मियों को देंगे। आवश्यकता पड़ने पर वह गोली चलाने के लिए भी आजाद होंगे।

तीन स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था की गई : एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि चूंकि यह आयोजन राष्ट्रपति भवन के अंदर होना है, इसलिए परिसर के अंदर और बाहर तीन स्तरीय सुरक्षा होगी। बाहरी घेरे पर दिल्ली पुलिस के जवान तैनात रहेंगे। उसके बाद अर्धसैनिक बल के जवान और भीतरी घेरे में राष्ट्रपति भवन की आंतरिक सुरक्षा के जवान तैनात रहेंगे। अधिकारी ने कहा कि अर्धसैनिक बलों और दिल्ली सशस्त्रत्त् पुलिस के जवानों की पांच कंपनी सहित लगभग 2500 पुलिस कर्मियों को कार्यक्रम स्थल के आसपास तैनात रहेंगे।

कार्यक्रम के दौरान नो फ्लाइंग जोन रहेगा

पुलिस कमिश्ननर द्वारा शपथ समारोह के दौरान नई दिल्ली इलाके को नो फ्लाइंग जोन घोषित किया गया है। कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति भवन एवं इसके आसपास ड्रोन, विमान, पैरा ग्लाइडर आदि के उड़ाने पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी। इसे रोकने के लिए राष्ट्रपति भवन के समीप विशेष टीमों अत्याधुनिक हथियारों के साथ तैनात किया जाएगा। दूसरी ओर चेतावनी दी गई है कि यदि किसी ने नियमों का उल्लंघन किया तो उस पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement