ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशभाजपा के सहयोगी अपना दल ने भी उठाई महिला आरक्षण में OBC कोटे की मांग, सपा और JDU जैसी बात

भाजपा के सहयोगी अपना दल ने भी उठाई महिला आरक्षण में OBC कोटे की मांग, सपा और JDU जैसी बात

महिला आरक्षण बिल पर बहस के दौरान अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल ने भी ओबीसी कोटे की मांग की। उनसे पहले सपा, जेडीयू और कांग्रेस ने भी ऐसी ही मांग की। सोनिया गांधी और डिंपल ने भी यह मसला उठाया था।

भाजपा के सहयोगी अपना दल ने भी उठाई महिला आरक्षण में OBC कोटे की मांग, सपा और JDU जैसी बात
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 20 Sep 2023 02:25 PM
ऐप पर पढ़ें

महिला आरक्षण बिल पर लोकसभा में बहस जारी है। इस दौरान सोनिया गांधी, जेडीयू और सपा की डिंपल यादव ने महिला आरक्षण में ओबीसी, अल्पसंख्यक और एससी-एसटी के लिए सब-कोटा की भी मांग की। यही नहीं भाजपा की सहयोगी अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल ने भी ऐसी ही मांग दोहराई। उन्होंने कहा कि महिला आरक्षण बिल में OBC के लिए कोटा की मांग गलत नहीं है। अनुप्रिया पटेल ने कहा कि इस बिल का इतिहास 27 साल पुराना है। 1996 में पहली बार देवेगौड़ा जी की सरकार इसे लेकर आई थी। फिर अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार और यूपीए के दौर में भी इसका बिल लाया गया, लेकिन पारित नहीं हुआ।

अनुप्रिया पटेल ने कहा कि मैंने विपक्ष के कई सांसदों को सुना, जिन्होंने पिछड़े वर्ग की महिलाओं के लिए कोटे में कोटा देने की बात कही। मैं भी इस मांग को सही मानती हूं और इसमें कुछ भी गलत नहीं है। उन्होंने कहा कि इसकी वजह यह है कि महिलाओं का समूह एकरूपता वाला नहीं है बल्कि उनमें कई तरह की भिन्नताएं हैं। महिलाएं अलग-अलग जाति, धर्म, आर्थिक समूह से आती हैं। उनकी पढ़ाई का लेवल भी अलग रहता है। हमारी सामाजिक संरचना में पिछड़े वर्ग से आने वाली महिलाएं निश्चित तौर पर हाशिये पर हैं और यही वजह है कि उनके संरक्षण की मांग होती रही है।

उन्होंने कहा कि मोदी जी के कार्यकाल में ओबीसी वर्ग के हितों के लिए तमाम प्रयास हुए हैं। मुझे भरोसा है कि वह इस बात पर विचार कर रहे होंगे कि कैसे महिला आरक्षण में ओबीसी कोटे को शामिल किया जाए। यही नहीं इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जब इस बिल को लेकर आई थी, तब भी उसने ओबीसी वर्ग के लिए कोई प्रावधान नहीं किया था। आज उसकी ओर से इस तरह का सुझाव दिया जा रहा है। अनुप्रिया पटेल का रुख सपा, आरजेडी और जेडीयू जैसे विपक्षी दलों जैसा है, जिन्होंने ओबीसी वर्ग की महिलाओं को भी आरक्षण देने की मांग की है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें