ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशकार में घूमते दिखे थे नफे सिंह राठी के हत्यारे, सामने आया सनसनीखेज CCTV वीडियो

कार में घूमते दिखे थे नफे सिंह राठी के हत्यारे, सामने आया सनसनीखेज CCTV वीडियो

Nafe Singh Rathee Murder Video: वायरल हो रहे वीडियो में एक Hyundai10 कार नजर आ रही है। दावा किया जा रहा है कि वीडियो राठी पर हुए हमले से कुछ देर पहले का ही है। सामने दो लोग नजर आ रहा है।

कार में घूमते दिखे थे नफे सिंह राठी के हत्यारे, सामने आया सनसनीखेज CCTV वीडियो
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 26 Feb 2024 01:08 PM
ऐप पर पढ़ें

Nafe Singh Rathee Murder Video: हरियाणा में इंडियन नेशनल लोकदल के हरियाणा चीफ नफे सिंह राठी की मौत से बवाल है। इसी बीच एक सीसीटीवी वीडियो भी चर्चा में है, जिसमें हमलावरों की गतिविधियों का दावा किया जा रहा है। वीडियों में नजर आ रहा है कि हमलावर कार में सवार थे। फिलहाल, इस मामले की जांच जारी है और पुलिस ने FIR में चार लोगों का नाम शामिल किया है। राठी के परिवार की तरफ से दावा किया जा रहा है कि लंबे समय से सुरक्षा की मांग की जा रही थी।

वायरल वीडियो में क्या
वायरल हो रहे वीडियो में एक Hyundai10 कार नजर आ रही है। दावा किया जा रहा है कि वीडियो राठी पर हुए हमले से कुछ देर पहले का ही है। सामने दो लोग नजर आ रहा है। कहा जा रहा है कि हमलावरों में रेकी कर इस वारदात को अंजाम दिया है। घटना दिल्ली के पास बहादुरगढ़ में हुई थी। इसमें इनेलो नेता के साथ-साथ एक पार्टी कार्यकर्ता की मौत भी हो गई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पुलिस को इस घटना से जुड़ा अहम सुराग हाथ नहीं लगा है। कहा जा रहा है कि फिलहाल, आसपास मौजूद सीसीटीवी कैमरों को खंगाला जा रहा है। इनेलो के ही वरिष्ठ नेता अभय चौटाला के आरोप हैं कि राठी की जान को खतरा होने की आशंका के बाद भी राज्य सरकार ने उन्हें सुरक्षा मुहैया नहीं कराई।

चौटाला ने कहा, 'राठी पर गोलियों की बौछार की गई।' अस्पताल में डॉक्टरों ने कहा कि राठी को गर्दन, पेट, रीढ़ की हड्डी और जांघ में चोटें आईं और उनका काफी खून बह गया था। राठी को 1996 और 2005 में दो बार बहादुरगढ़ से विधायक चुना गया था।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, हरियाणा पुलिस ने राठी की हत्या के मामले में चार लोगों का नाम लिखा है। इनमें नरेश कौशिक, रमेश राठी, सतीश राठी और राहुल शामिल हैं। राठी के बेटे जितेंद्र का कहना है कि पांच सालों से सुरक्षा की मांग की जा रही थी। उन्होंने सरकार पर भी इस मामले में आरोप लगाए हैं।

इधर, सरकार भी अलर्ट मोड पर है। हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि उन्होंने अधिकारियों से बात की है और उन्हें मामले में फौरन कार्रवाई करने का आदेश दिया है। उन्होंने बताया कि विशेष कार्य बल मामले की जांच कर रहा है और दोषियों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी कार्रवाई की बात कही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें