ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशमुकेश अंबानी का फेक वीडियो देख शेयर में लगा दिया पैसा, ठगी गई महिला डॉक्टर

मुकेश अंबानी का फेक वीडियो देख शेयर में लगा दिया पैसा, ठगी गई महिला डॉक्टर

बिजनेसमैन मुकेश अंबानी का यह इस तरह का दूसरा डीपफेक वीडियो है। इससे पहले मार्च में एक ऐसा ही वीडियो सामने आया था जिसमें वो स्टॉक ट्रेडिंग मेंटरशिप प्रोग्राम के बारे में बात करते नजर आए थे।

मुकेश अंबानी का फेक वीडियो देख शेयर में लगा दिया पैसा, ठगी गई महिला डॉक्टर
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईFri, 21 Jun 2024 09:47 AM
ऐप पर पढ़ें

मुंबई के अंधेरी में महिला आयुर्वेद डॉक्टर से 7 लाख रुपये की ठगी का मामला सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस धोखाधड़ी को अंजाम देने के लिए डीपफेक वीडियो का सहारा लिया गया। 54 साल की डॉक्टर इंस्टाग्राम रील के जरिए शेयर ट्रेडिंग स्कैम का शिकार हुई। इसमें बिजनेसमैन मुकेश अंबानी के डीपफेक वीडियो का इस्तेमाल किया गया जिसमें वो 'राजीव शर्मा ट्रेड ग्रुप' के बारे में बात करने नजर आ रहे हैं। फर्जी वीडियो में अंबानी लोगों से हाई रिटर्न के लिए इस कंपनी का बीसीएफ इंवेस्टमेंट एकेडमी ज्वॉइन करने के लिए कहते हैं।

मुकेश अंबानी का यह इस तरह का दूसरा डीपफेक वीडियो है। इससे पहले मार्च में एक ऐसा ही वीडियो सामने आया था जिसमें वो स्टॉक ट्रेडिंग मेंटरशिप प्रोग्राम के बारे में बात करते नजर आ रहे थे। इसमें अंबानी को AI के जरिए यह बोलते हुए दिखाया गया कि लोगों को 'स्टूडेंट वीनिट' पेज को फॉलो करना चाहिए। यहां पर इंटरनेट यूजर्स को फ्री में इंवेस्टमेंट एडवाइस मिल सकती है। मुंबई के डॉक्टर केके एच पाटिल के साथ यह फ्रॉड 28 से 10 जून के बीच हुआ। इस दौरान उन्होंने 16 अलग-अलग बैंक खातों में कुल मिलाकर 7 लाख रुपये भेजे। इसके बदले उनसे हाई रिटर्न और अंबानी से प्रमोशन का वादा किया गया था।

महिला डॉक्टर को कैसे हुआ ठगी का संदेह 
रिपोर्ट के मुताबिक, 7 लाख रुपये गंवा देने के बाद महिला डॉक्टर को अपने साथ धोखाधड़ी के बारे में जानकारी मिली। ट्रेडिंग वेबसाइट पर उसे 30 लाख रुपये का प्रॉफिट दिखा रहा था मगर वह उसे निकाल नहीं पाई। ऐसी स्थिति में संदेह पैदा हुआ। महिला ने इसे लेकर अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ पुलिस थाने में FIR दर्ज कराई। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि ठगों ने इस मामले में डीपफेक टेक्नोलॉजी का सहारा लिया। पुलिस इस मामले में बैंक के नोडल ऑफिसर्स के संपर्क में है। अब उन बैंक अकाउंट्स को बंद करवाया जा रहा है जिनमें महिला ने पैसे ट्रांसफर किए थे। 

Advertisement