DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

MP Lok sabha election live updates: मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर भाजपा ने जमाया कब्जा, केवल छिंदवाड़ा सीट से कांग्रेस को मिली जीत

bjp

महज छह महीने पहले ही मध्यप्रदेश में अपनी सरकार बनाने वाली कांग्रेस पार्टी ने कल्पना नहीं की होगी कि लोकसभा चुनावों में पार्टी की ऐसी हार होगी। 29 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस मात्र एक सीट ही जीत सकी। शेष 28 सीटों पर भाजपा ने कब्जा कर लिया। 2014 की मोदी लहर में भी जिस सीट को बचाने में पार्टी कामयाब रही थी, वह सीट भी इस बार भाजपा के खाते में चली गई। पार्टी के दो बड़े नेताओं दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी हार का मुंह देखना पड़ा है।

राजनीतिक विशेषज्ञों के मुताबिक, विधानसभा चुनावों में किसानों के गुस्से के चलते भाजपा को सत्ता से बेदखल होना पड़ा था। हालांकि, कांग्रेस की सरकार के छह महीने पूरे होने के बाद भी कर्जमाफी का वादा पूरा न होने, बिजली की समस्या दोबारा शुरू होने और फसल बेचने के बाद भुगतान में समय लगने जैसे कारणों से किसान अपने आप को ठगा महसूस करने लगे थे।

बिजली की समस्या से शहरी मतदाता भी नई सरकार से नाराज थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लहर और नई सरकार से इन शिकायतों के चलते बड़े पैमाने पर भाजपा के पक्ष में मतदान हुआ। भोपाल में हिंदू आतंकवाद की थ्योरी देने वाले दिग्विजय सिंह के सामने प्रज्ञा ठाकुर को उतारने वोटों के ध्रुवीकरण हुआ और इसका फायदा भोपाल के बाहर भी भाजपा को मिला।

जानकारों की मानें तो भले ही कमलनाथ छिंदवाड़ा से अपने पुत्र नकुलनाथ को जीत दिलाने में कामयाब हो गए हों, लेकिन राज्य अन्य सीटों पर हार का ठीकरा भी उनके ही सिर फूटेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:MP lok sabha election result bjp won 28 seats while congress won only chindwara seat