DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › MP बीजेपी ने कांग्रेस को दिया उसी के अंदाज में जवाब, चन्नी के ट्विटर फॉलोअर्स को लेकर कसा तंज
देश

MP बीजेपी ने कांग्रेस को दिया उसी के अंदाज में जवाब, चन्नी के ट्विटर फॉलोअर्स को लेकर कसा तंज

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Published By: Himanshu Jha
Mon, 20 Sep 2021 09:48 AM
MP बीजेपी ने कांग्रेस को दिया उसी के अंदाज में जवाब, चन्नी के ट्विटर फॉलोअर्स को लेकर कसा तंज

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने जब भूपेंद्र पटेल के गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया था तो मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्विटर पर उनके कम फॉलोअर्स को लेकर तंज कसा था। कांग्रेस का कहना था कि महज मात्र 14 हजार लोगों की पसंद को गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया गया है। एक सप्ताह के बाद यही मौका बीजेपी के हाथ लग गया, जब कांग्रेस पार्टी ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री के तौर पर चरणजीत सिंह चन्नी के नाम का ऐलान किया। 

मध्य प्रदेश बीजेपी ने कांग्रेस को उसी के अंदाज में जवाब दिया है। बीजेपी ने तंज कसते हुए ट्वीट किया, 'पूरे देश में 2,290 लोगों की पसंद चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के नये मुख्यमंत्री होंगे। ये सोनिया गांधी की तरफ़ से पंजाब की जनता के मुंह पर करारा तमाचा है।' आपको बता दें कि जिस समय चन्नी के नाम की घोषणा हुई, उस समय चन्नी के ट्विटर पर महज 2200 के करीब फॉलोअर्स थे। हालांकि अब इसकी संख्या बढ़ती जा रही है।

भूपेंद्र पटेल के सीएम बनने पर क्या कहा था एमपी कांग्रेस ने?
विजय रुपाणी के इस्तीफे के बाद, बीजेपी ने पहली बार विधानसभा चुनाव जीतने वाले भूपेंद्र पटेल को गुजरात की कमान दी। उन्हें राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और उत्तर प्रदेश के वर्तमान राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का करीबी माना जाता है। बीजेपी की यह घोषणा चौकाने वाली थी। एमपी कांग्रेस ने उनके ट्विटर फॉलोअर्स के जरिए निशाना साधा। पार्टी ने अपने ट्वीट में लिखा, 'पूरे देश में 14000 लोगों की पसंद भूपेन्द्र पटेल गुजरात के नये मुख्यमंत्री होंगे। ये नरेंद्र मोदी की तरफ़ से गुजरात की जनता के मुंह पर करारा तमाचा है।'

आपको बता दें कि चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं। आज दोपहर करीब ग्यारह बजे वह चंडीगढ़ में पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। चन्नी के नाम की घोषणा से पहले कांग्रेस में सुखजिंदर रांधवा, अंबिका सोनी, सुनील जाखड़ सरीखे नामों पर अटकलें लगाई गईं। किसा के नाम पर सहमति नहीं बनी। बाद में कांग्रेस आलाकमान ने चन्नी के नाम की घोषणा कर सभी कौ चौंका दिया।

संबंधित खबरें