ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशपति से झगड़े के बाद महिला ने तीन साल की बेटी को मार डाला, शव के साथ 4 KM तक घूमती रही कातिल मां

पति से झगड़े के बाद महिला ने तीन साल की बेटी को मार डाला, शव के साथ 4 KM तक घूमती रही कातिल मां

Mother killed daughter: पति पत्नी में झगड़े के दौरान उनकी तीन साल की बेटी रो रही थी। गुस्साई मां ने बेटी की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद वह शव को लेकर सड़क पर चार किलोमीटर तक घूमती रही।

पति से झगड़े के बाद महिला ने तीन साल की बेटी को मार डाला, शव के साथ 4 KM तक घूमती रही कातिल मां
Gaurav Kalaलाइव हिन्दुस्तान,नागपुरWed, 22 May 2024 12:14 PM
ऐप पर पढ़ें

Mother killed daughter: महाराष्ट्र के नागपुर में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। एक महिला अपने पति से झगड़े के बाद इतना गुस्सा हो गई कि उसने अपनी तीन साल की मासूम बेटी की गला घोंटकर हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार, हत्या के बाद महिला बेटी के शव के साथ करीब 4 किलोमीटर तक सड़क पर घूमती रही।  पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना सोमवार देर रात को एमआईडीसी पुलिस थाने की सीमा में हुई। आरोपी महिला 23 वर्षीय ट्विंकल राउत और उनके पति 24 वर्षीय राम लक्ष्मण राउत रोजगार की तलाश में चार साल पहले नागपुर चले गए थे। एक अधिकारी ने कहा, वे एक कागज बनाने वाली कंपनी में काम करते थे और एमआईडीसी क्षेत्र में हिंगना रोड पर कंपनी के परिसर में एक कमरे में रहते थे। 

पति-पत्नी में अक्सर होते थे झगड़े
पुलिस ने कहा कि उनके रिश्ते में आपसी अविश्वास के कारण अक्सर झगड़े होते थे। सोमवार शाम करीब चार बजे दंपति में फिर से झगड़ा हुआ। तीखी नोकझोंक के बीच उनकी बेटी रोने लगी। गुस्से में आकर महिला बेटी को घर से बाहर ले गई और उसने कथित तौर पर एक पेड़ के नीचे बच्ची की गला दबाकर हत्या कर दी।

रात में शव के साथ घूमती रही मां
बाद में वह शव के साथ करीब चार किलोमीटर तक चलीं। उन्होंने बताया कि रात करीब आठ बजे उसने एक पुलिस गश्ती वाहन को देखा और सुरक्षाकर्मियों को घटना की जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि पुलिस बच्ची को अस्पताल ले गई जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उन्होंने कहा कि पुलिस ने बाद में महिला को गिरफ्तार कर लिया और उस पर भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) के तहत आरोप लगाया। अधिकारी ने बताया कि महिला को बाद में अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे 24 मई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।