DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

4 को नहीं, 6 जून को केरल पहुंचेगा मानसून: मौसम विभाग

monsoon

इस बार मानसून केरल में पांच दिन की देरी के साथ छह जून को पहुंचेगा। मौसम विभाग ने बुधवार को मानसून के केरल आगमन का पूर्वानुमान जारी किया है। केरल में मानसून सामान्यत एक जून को पहुंचता है। लेकिन इसमें सात दिनों का अंतर रहता है। कभी सात दिन पहले तो कभी सात दिन देरी से पहुंचता है।

एक दिन पहले ही निजी मौसम एजेंसी स्काई मेट ने चार जून को मानसून के केरल पहुंचने की संभावना व्यक्त की थी। लेकिन मौसम विभाग ने उसकी रिपोर्ट को खारिज करते हुए बुधवार को कहा कि छह जून को मानसून केरल पहुंचेगा। विभाग ने यह भी कहा है कि 18-19 मई के बीच मानसून के अंडमान सागर में सक्रिय होने की संभावना है। इसके बाद मानसून केरल की तरफ बढ़ेगा। लेकिन इस बार थोड़ा विलंब हो रहा है।

केरल में पहुंचने के बाद मानसून गोआ, मुंबई होते हुए जून के अंत तक उत्तर भारत में पहुंचता है और जुलाई के पहले से सप्ताह में पूरे देश भर में छा जाता है। मौसम विभाग का कहना है कि मानसून के केरल आगमन में विलंब से जरूरी नहीं है कि यह उत्तर भारत में भी देर से पहुंचे। केरल में दस्तक देने के बाद बनने वाली स्थितियों के आधार पर मानसून रफ्तार पकड़ता है।

मानसून का आगमन
केरल में पहुंचने की सामान्य तिथि-1 जून
कब जल्दी कब देर से केरल पहुंचा मानसून
2005        7 जून
2006        26 मई
2007        28 मई
2008        31 मई
2009        23 मई
2010        31 मई
2011        29 मई
2012        5 जून
2013        1 जून
2014        6 जून
2015        5 जून
2016        8 जून
2017        30 मई
2018        29 मई

देश में मानसून के आगमन की तिथियां
स्थान        तिथि        
केरल        1 जून
हैदराबाद        5 जून
गुवाहाटी        5 जून
मुंबई        10 जून
रांची        10 जून            
पटना        11 जून            
गोरखपुर        13 जून            
वाराणसी        15 जून            
लखनऊ        18 जून
देहरादून        20 जून
आगरा        20 जून
जयपुर        25 जून        
दिल्ली        29 जून    
श्रीनगर        1 जुलाई
जैसेलमेर        1 जुलाई

सामान्य बारिश की संभावना
मौसम विभाग ने हाल में जारी पूर्वानुमान में मानसून के चार महीनों जून-सितंबर के दौरान सामान्य के 96 फीसदी बारिश होने की संभावना व्यक्त की है। मानसून के दौरान कुल 890 मिमी बारिश होती है। 96 फीसदी बारिश के अनुमान का मतलब है कि इस बार यह 854 मिमी होगी। इसी प्रकार अलनीनो बनने की अटकलों को भी खारिज करते हुए कहा कि ऐसी संभावना बेहद कम है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Monsoon to reach Kerala on June 6 says weather department