DA Image
1 जून, 2020|8:46|IST

अगली स्टोरी

विजय दशमी: मोहन भागवत बोले, भारत की सीमाएं पहले से कहीं अधिक सुरक्षित

moahan

आज दशहरा का पर्व पूरे देश में मनाया जा रहा है। इसके साथ ही आज राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का स्थापना दिवस भी है। इस मौके पर नागपुर में संघ प्रमुख मोहन भागवत ने देश को विजयदशमी की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने चंद्रयान का जिक्र करते हुए कहा कि इससे पूरे विश्व में भारत का सम्मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 पर भी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि 370 हटाना बड़ा फैसला। उन्होंने कहा, विश्व में बहुत से लोग भारत की वैचारिक प्रक्रिया को बदलना चाहते हैं, पर भारत यह नहीं चाहता, निहित स्वार्थ वाले नहीं चाहते कि भारत मजबूत और जीवंत बने 

आरएसएस प्रमुख ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि इस सरकार ने कई बड़े फैसले लिए है। उन्होंने कहा कि आज कल मंदी कही जा रही है इस बारे में मेरी एक अर्थशास्त्री से बात हुई तो उन्होंने कहा कि जब ग्रोथ रेट जब शून्य के नीचे चले जाए तो मंदी कहती है जबकि देश की ग्रोथ रेट पांच से ऊपर है। उन्होंने कहा कि सरकार ने मंदी से निपटने के लिए कई कदम उठाए हैं।

भागवत ने कहा कि बीते कुछ वर्षों में एक परिवर्तन भारत की सोच की दिशा में आया है। उसको न चाहने वाले व्यक्ति दुनिया में भी है और भारत में भी। भारत को बढ़ता हुआ देखना जिनके स्वार्थों के लिए भय पैदा करता है, ऐसी शक्तियां भी भारत को दृढ़ता व शक्ति से संपन्न होने नहीं देना चाहती।

भागवत ने कहा, दुनिया यह जानने के लिए उत्सुक थी कि क्या इतने बड़े देश में 2019 के चुनाव सुचारू रूप से संचालित होंगे। भारत में लोकतंत्र कहीं बाहर से नहीं आया बल्कि यह व्यवस्था सदियों से यहां है। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान हटाने का मोदी, शाह का कदम सराहनीय है। भारत की सीमाएं पहले से कहीं अधिक सुरक्षित हैं, तटीय सुरक्षा पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mohan Bhagwat Vijayadashami removal of 370 is a big step jammu kashmir