DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेघालयः शिलांग में स्थिति में सुधार, राज्यपाल ने की शांति की अपील

meghalaya violence

मेघालय की राजधानी शिलांग में दूसरे दिन स्थिति में सुधार के संकेत नजर आए हैं। राज्यपाल गंगा प्रसाद ने लोगों से शांति बनाए रखने और ऐसा कोई भी काम नहीं करने की अपील की है जिससे राज्य की छवि को धक्का लगे। 

ईस्ट खासी हिल्स जिले के उपायुक्त पी एस दखार ने बताया कि राज्य की राजधानी के हिंसा प्रभावित इलाके से कल से किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं आयी है। राज्यपाल ने एक बयान में कहा कि पिछले एक सप्ताह के घटनाक्रम के कारण राज्य के शांतिप्रिय लोगों के मन में चिंता व्याप्त हो गयी है । उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने के प्रयास में सरकार का समर्थन करने की अपील की है। 
         
उन्होंने कहा, ''हिंसा के कारण आम जन-जीवन प्रभावित होने से हमारे जैसे शांतिप्रिय राज्य की छवि को धक्का लगा है और खासकर पर्यटन के व्यस्त मौसम में राज्य की अर्थव्यवस्था पर इसका नकारात्मक असर पड़ेगा। प्रसाद ने लोगों से अफवाहों से सावधान रहने को कहा क्योंकि शरारती लोग मिथ्या खबरें फैलाने की कोशिश कर सकते हैं। 
          
उपायुक्त ने कहा कि पुलिस बाजार और ल्यू दूह (बड़ा बाजार) में अधिकतर दुकानें खुली हुयी है। उन्होंने कहा कि प्रभावित इलाके में आज सुबह सात बजे से दिन में 12 बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गयी। उपायुक्त ने कहा कि रात में कर्फ्यू के समय में भी बदलाव किया गया है। अब शाम छह बजे से सुबह पांच बजे की बजाए शाम चार बजे से सुबह पांच तक कर्फ्यू रहेगा।
         
बहरहाल, अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य मंजीत राय ने पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात कर स्थिति के बारे में पूछताछ की । राय ने कहा कि रिपोर्ट कल आयोग के समक्ष पेश की जाएगी। आयोग के सदस्य पंजाबी लेन में गुरूद्वारा में भी गए और बाद में उनके मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा से भी मिलने की उम्मीद है। पंजाबी लेन इलाके में सिख बाशिंदों और राज्य की बसों के खासी ड्राइवरों के बीच लड़ाई के कारण शिलांग 29 मई से हिंसा की चपेट में है।
         


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:meghalaya Improvement in situation in Shillong Governor appealed for peace in the state