DA Image
18 जनवरी, 2020|9:11|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सावरकर पर संग्राम: मायावती बोलीं- अब भी कांग्रेस शिवसेना के साथ क्यों, यह आपका दोहरा चरित्र नहीं?

mayawati

नागरिकता कानून पर मचे बवाल और सारवकर पर सियासी घमासान के बीच बसपा प्रमुख मायावती ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है। नागरिकता संशोधन कानून पर लोकसभा में सरकार का साथ देने वाली शिवसेना के बहाने मायावती ने कहा है कि महाराष्ट्र में सरकार के साथ अब भी कांग्रेस बनी हुई है, यह उसका दोहरा चरित्र नहीं है तो क्या है। मायावती ने यह भी कहा कि सावरकर को लेकर शिवसेना को कांग्रेस का बयान भी बर्दाश्त नहीं तो फिर कांग्रेस अब भी शिवसेना के साथ क्यों बनी हुई है? क्या यह उसका दोहरा चरित्र नहीं? दरअसल, मायावती ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से कई ट्वीट किया है। 

मायावती ने ट्वीट किया, 'शिवसेना अपने मूल एजेण्डे पर अभी भी कायम है, इसलिए इन्होंने नागरिकता संशोधन बिल पर केन्द्र सरकार का साथ दिया और अब सावरकर को भी लेकर इनको कांग्रेस का रवैया बर्दाश्त नहीं है। किन्तु फिर भी कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र सरकार में शिवसेना के साथ अभी भी बनी हुई है तो यह सब कांग्रेस का दोहरा चरित्र नहीं है तो और क्या है? अतः इनको, इस मामले में अपनी स्थिति जरूर स्पष्ट करनी चाहिये। वरना यह सब इनकी अपनी पार्टी की कमजोरियों पर से जनता का ध्यान बांटने के लिए केवल कोरी नाटकबाजी ही मानी जायेगी।'

दरअसल, राहुल गांधी ने वीर सावरकर को लेकर शनिवार को एक बयान दिया था कि मैं राहुल सावरकर नहीं हूं, मैं राहुल गांधी हूं और मैं माफी नहीं मांगूंगा। इस पर न सिर्फ बीजेपी हमलावर दिखी, बल्कि शिवसेना ने भी राहुल गांधी को नसीहत दी। शिवसेना ने राहुल गांधी को सावरकर के बारे में ऐसी टिप्पणी करने से बचने की सलाह दी।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mayawati Sharp attack on Congress over Alliance with Shivsena in maharashtra amid Citizenship Amendment Act protest