DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मालवीय नगर हादसा : रबड़ गोदाम मालिक गिरफ्तार, MCD से नहीं ली गई थी जरूरी अनुमति- VIDEO

राजधानी दिल्ली के मालवीय नगर में मंगलवार शाम एक रबड़ गोदाम में आग लगने के मामले में दिल्ली पुलिस ने गोदाम के मालिक संजय सैनी को बुधवार शाम गिरफ्तार कर लिया है।

malviya Nagar Fire

1 / 3malviya Nagar Fire

delhi Fire

2 / 3delhi Fire

Malviya Nagar Fire

3 / 3Malviya Nagar Fire

PreviousNext

राजधानी दिल्ली के मालवीय नगर में मंगलवार शाम एक रबड़ गोदाम में आग लगने के मामले में दिल्ली पुलिस ने गोदाम के मालिक संजय सैनी को बुधवार शाम गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि कि गोदाम के लिए आरोपी संजय सैनी एमसीडी से इसके लिए जरूरी अनुमति भी नहीं ली थी और ना ही गोदाम में किसी प्रकार के फायर सेफ्टी उपकरण ही मौजूद थे।

जानकारी के अनुसार, मंगलवार शाम मालवीय नगर के खिड़की एक्सटेंशन में रबड़ गोदाम में लगी भीषण आग को बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड के साथ ही एयरफोर्स की भी मदद लेनी पड़ी और हेलिकॉप्टर की सहायता से 16 घंटे बाद बुधवार सुबह करीब सात बजे इस पर काबू पाया जा सका। हादसे में किसी के भी हताहत होने की खबर नहीं है। हादसे के बाद आस-पास के घरों को खाली करा लिया गया था। 

दक्षिणी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने बताया कि मंगलवार शाम करीब पांच बजे मालवीय नगर में संत निरंकारी स्कूल के पास आग लगने की सूचना मिली। उन्होंने बताया कि आग काफी भीषण थी, इसलिए फायर ब्रिगेड की 65 गाड़ियां तथा पांच झाग फेंकने वाली दमकल की गाड़ियों को मौके पर भेजा गया था। कई घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू नहीं पाने के कारण एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर की सहायता ली गई।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि जांच में पता चला है कि गोदाम में रबड़ बनाने में इस्तेमाल होने वाले केमिकल से भरा एक ट्रक खड़ा था। मैक्सवेल प्राइवेट लिमिटेड के इस गोदाम में रबड़ की सामग्री बनाने के लिए कच्चा माल रखा था। इस आग की वजह से एहतियातन आसपास की 13 इमारतों, एक स्कूल तथा एक जिम को खाली कराना पड़ा है।

साकेत स्थित मैक्स अस्पताल की चिकित्सा टीमों, रैनबो चाइल्ड स्पेशलिटी अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल तथा एम्स के डॉक्टरों को अलर्ट पर रखा गया है। इन अस्पतालों के पास समुचित पुलिस बलों को तैनात किया गया है। अधिकारी के अनुसार, आग से किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है।  

डिप्टी चीफ फायर ऑफिसर की मानें तो गोदाम के आसपास सड़कें संकरी होने के कारण दमकल की गाड़ि‍यों को आग बुझाने के लिए मौके पर पहुंचने में समय लग गया। गौरतलब है कि ये इलाका सेलेक्ट सिटी मॉल के नज़दीक का इलाका है। आग की वजह से उठे काले धुएं को दूर से ही देखा जा सकता था। 

 

हेलिकॉप्टर की भी ली गई मदद


स्थानीय लोगों की मानें तो आग पर कल मंगलवार को ही काबू पा लिया गया था। लेकिन शाम को तेज हवा के कारण आग फिर भी भड़क गई और भयावह होती चली गई। रात को ही मौते पर तीस गाड़ियां पहुंची थीं। इतना ही नहीं आग बुझाने के लिए एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर को भी तैनात किया गया है।

 

वायुसेना ने चलाया 'बंबी बकेट' अभियान

भारतीय वायुसेना दिल्ली के किसी रिहायशी इलाके में पहली बार 'बंबी बकेट' अभियान चलाकर आग पर काबू पाने में फायर ब्रिगेड की मदद की है। खिड़की एक्सटेंशन में मंगलवार रात एक गोदाम और एक जलते ट्रक से निकलते धुएं के गुबार के कारण स्थानीय लोगों में अफरातफरी का माहौल देखा गया।

वायुसेना की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि हमें पश्चिम वायु कमान मुख्यालय से मध्यरात्रि के करीब मालवीय नगर में लगी आग पर काबू पाने के लिए मदद का अनुरोध प्राप्त हुआ। एमएलएच श्रेणी के एक हेलिकॉप्टर ने सरसावा से उड़ान भरी। इसके बाद घटनास्थल की टोह लेते हुए वह पालम में उतरा। इसके बाद आग पर काबू पाने के लिए हेलीकॉप्टर ने बंबी बकेट के साथ उड़ान भरा। 'बंबी बकेट' एक विशेष प्रकार की बाल्टी होती है जिसके जरिये हेलिकॉप्टर से पानी छोड़ा जाता है।

हेलिकॉप्टर ने यमुना से पानी भरा और घटनास्थल पर छोड़ा। बयान में कहा गया है कि किसी शहरी इलाके में आग पर काबू पाने के लिए पहली बार बंबी बकेट का इस्तेमाल किया गया।  

सांस लेने में तकलीफ

malviya nagar Fire

बताया जा रहा है कि आग पहले एक ट्रक में लगी जो फैलकर पास ही के रबर गोदाम में जा लगी। घटनास्‍थल दिल्‍ली के सबसे बड़े मॉल में से एक सेलेक्‍स सिटी के पास ही है। काले धुएं के गुबार को बहुत दूर से देखा जा सकता है। यहां तक कि वहां से 5 किलोमीटर दूर नेहरू प्‍लेस से भी इसे देखा जा सकता है। आग से निकल रहे काले धुएं की वजह से आस पास के लोगों को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही है।  

अग्निशम विभाग ने कहा कि आग के गोदाम से नजदीकी इलाकों में फैलने खतरा है। आग ने गोदाम के पास वाली इमारत को अपनी चपेट में ले भी लिया है लेकिन कहा जा रहा है कि वह इमारत खाली पड़ी थी।

गोदाम के आस-पास की इमारतों को खाली करा लिया गया है और इलाके को अलग-थलग कर दिया गया है। गोदाम के बेहद पास ही संत निरंकारी पब्लिक स्‍कूल है लेकिन राहत की बात यह रही कि आग लगने के समय वह खाली था। अभी तक किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:massive fire in rubber godown at south delhi in malviya nagar