ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशभाजपा से डर गई हैं ममता बनर्जी, रोज बदल रहीं रुख; अधीर रंजन चौधरी का पलटवार

भाजपा से डर गई हैं ममता बनर्जी, रोज बदल रहीं रुख; अधीर रंजन चौधरी का पलटवार

चौधरी ने कहा, ''मैं यह समझने में असमर्थ हूं कि वास्तव में उनके मन में क्या है। हालांकि यह देखना काफी दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक नेता जो 'इंडिया' गठबंधन में है, वह ऐसी बातें कहती हैं।''

भाजपा से डर गई हैं ममता बनर्जी, रोज बदल रहीं रुख; अधीर रंजन चौधरी का पलटवार
Madan Tiwariएजेंसियां,बहरामपुरSat, 03 Feb 2024 11:01 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने शनिवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी की आलोचना की और आरोप लगाया कि उनके बदलते बयान और बदलता रुख भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से उनके डर का संकेत है। टीएमसी द्वारा चौधरी को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए पश्चिम बंगाल में दोनों पार्टियों के बीच एक असफल गठबंधन के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है। चौधरी ने कहा कि बनर्जी जैसी वरिष्ठ नेता को कांग्रेस पर निशाना साधते हुए देखना काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। 

चौधरी ने यहां मुर्शिदाबाद जिले में पार्टी कार्यालय में संवाददाताओं से कहा, ''ममता बनर्जी आरोप लगा रही हैं कि कांग्रेस मुस्लिम वोट पाने के लिए तरह-तरह की बातें कर रही है। भाजपा भी कह रही है कि आने वाले दिनों में कांग्रेस कमजोर होगी, और दीदी (ममता) कह रही हैं कि कांग्रेस से कुछ भी नहीं होने वाला है।'' चौधरी ने कहा, ''मैं यह समझने में असमर्थ हूं कि वास्तव में उनके मन में क्या है। हालांकि यह देखना काफी दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक नेता जो 'इंडिया' गठबंधन में है, वह ऐसी बातें कहती हैं।''

टीएमसी प्रमुख बनर्जी की इस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कि उन्हें संदेह है कि क्या कांग्रेस आगामी लोकसभा चुनाव में "40 सीट भी" हासिल कर पाएगी, चौधरी ने कहा, ''ऐसा लगता है कि ममता बनर्जी भाजपा से डर गई हैं और यही कारण है कि वह हर दिन अपना रुख बदल रही हैं।'' बनर्जी की यह टिप्पणी कांग्रेस नेता राहुल गांधी के इस दावे के बाद आयी थी कि पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ टीएमसी के साथ सीट बंटवारे पर चर्चा चल रही है और मामला सुलझा लिया जाएगा। बनर्जी ने कांग्रेस की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' की भी आलोचना की, जो पश्चिम बंगाल के छह जिलों से होकर गुजरी।

उन्होंने इसकी तुलना राज्य में आए "प्रवासी पक्षियों" के लिए "महज फोटो खींचने के अवसर" से की थी। बनर्जी ने शुक्रवार को कहा, "मैंने प्रस्ताव दिया कि कांग्रेस 300 सीट पर चुनाव लड़े (देश भर में जहां भाजपा मुख्य प्रतिद्वंद्वी है), लेकिन उन्होंने इस पर ध्यान देने से इनकार कर दिया। अब, वे मुस्लिम मतदाताओं को अपने पाले में करने के लिए राज्य में आए हैं। मुझे संदेह है कि यदि वे 300 सीट पर चुनाव लड़ते हैं, तो क्या वे 40 सीट भी जीत पाएंगे।'' उन्होंने कहा था, "हम गठबंधन के लिए तैयार थे, उन्हें दो सीट की पेशकश की थी जिसे उन्होंने अस्वीकार कर दिया। अब उन्हें सभी 42 सीट पर अकेले चुनाव लड़ने दें। तब से, हमारे बीच कोई बातचीत नहीं हुई है। हम अकेले लड़ेंगे और भाजपा को बंगाल में हरायेंगे।" बनर्जी की यह टिप्पणी गांधी द्वारा बृहस्पतिवार रात पश्चिम बंगाल में पार्टी के 'डिजिटल मीडिया योद्धाओं' के साथ बातचीत के दौरान सीट-बंटवारे के गतिरोध को हल करने की आशा व्यक्त करने के एक दिन बाद आयी थी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें