DA Image
2 मार्च, 2021|9:42|IST

अगली स्टोरी

5 अप्रैल पर दीया जलाने के पीएम मोदी के संदेश पर बोलीं ममता बनर्ती, उनके मामले में मैं कुछ नहीं कह सकती

west bengal cm mamata banerjee  file pic

कोरोना के चलते देश में लॉकडाउन पर बात करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि राज्य पहले से ही हजारों करोड़ रुपये के घाटे में चल रहा है, लेकिन उन्हें इस बात पर गर्व है कि उनकी सरकार अभी भी कर्मचारियों के वेतन को देने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने दो माह के लिए समाजिक पेंशन के लिए 35,10,200 रुपये आवंटित किए हैं। ममता ने सचिवालय के पत्रकारों से बातचीत में कहा कि- आपको अंदाजा भी है कि हमें इस लॉकडाउन के चलते कितना नुकसान हुआ है? कुछ हजार करोड़, कुछ कमाई नहीं हुई सिर्फ खर्चा हुआ है। सिर्फ हमारी सरकार ने ही अपने कर्मचारियों को पहली तारीख को तंख्वाह दी है वरना वो बेचारे क्या खाते।

उन्होंने कहा कि कई राज्य हैं, जो पश्चिम बंगाल की तरह केंद्र के भारी कर्ज के तले दबे नहीं हैं, लेकिन तालाबंदी के दौरान वे सब अपना खजाना खाली कर चुके हैं। ऐसे कई राज्य हैं जिन्हें हमारे जैसे 50,000 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाने की आवश्यकता नहीं है, फिर भी उनके खजाने खाली हैं। ऐसे कई राज्य हैं जो कर्मचारियों को पूरा वेतन नहीं दे सकते हैं ... कुछ ने केवल 40 प्रतिशत का भुगतान किया है। लेकिन हम ऐसा कर पाए इसके लिए मुझे गर्व है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल को रात 9 बजकर 9 मिनट पर लोगों से अपने मोबाइल फोन की लाइट, कैंडल या दीया जलाकर घर की बाकी लाइट बंद करने का आग्रह किया है। इसपर ममता ने कहा कि जो लोग पीएम के संदेश को मानते हैं, वे उनके निर्देशों का पालन कर सकते हैं। ममता ने कहा कि- प्रधानमंत्री अपने मन की बात कहेंगे और मैं अपनी बात कहूंगी। मैं किसी और के मामले में हस्तक्षेप नहीं कर सकती, अगर आपको लगता है कि प्रधानमंत्री ने कुछ अच्छा कहा है, तो इसका पालन करें, यह एक व्यक्तिगत निर्णय है।

गौरतलब है कि पूरे विश्व में कहर मचाने वाले खतरनाक कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में लगातार बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात मामले से देश में कोरोना वायरस के मामलों में बड़ा इजाफा देखने को मिला है और शनिवार को यह आंकड़ा 2900 पार कर गया। वहीं, इस खतरनाक कोविड-19 महामारी से अब तक देशभर में जहां 68 लोग जान गंवा चुके हैं और 183 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह 9 बजे तक के अपडेटेड आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के कुल 2901 मामलों में से 2650 केस एक्टिव हैं। महाराष्ट्र जहां 484 मामलों के साथ इस तालिका में टॉप पर है, वहीं दिल्ली में मरकज मामले के बाद संक्रमितों की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है और यह आंकड़ा 400 पहुंच गया है। तमिलनाडु में 418 मामले सामने आए हैं तो वहीं केरल में पॉजिटिव केसों की संख्या 338 हो गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mamta Banarti said on PM Modi s message of LIGHTENING diya on April 5 I cannot say anything about him