Mamata Banerjee in Naxalbari Target Centre Govt Beti Bachao Scheme - ममता ने केंद्र की 'बेटी बचाओ योजना' को बताया असफल, कहा- लोगों को नहीं मिली कोई असल मदद DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ममता ने केंद्र की 'बेटी बचाओ योजना' को बताया असफल, कहा- लोगों को नहीं मिली कोई असल मदद

Chief Minister of West Bengal Mamata Banerjee during a press conference at Press Club of India, in N

तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना' असफल है और इससे देश के लोगों की कोई वास्तविक मदद नहीं हुई। बनर्जी ने मोदी को ''एक्सपायरी पीएम बताते हुए कहा कि उन्होंने 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ'  योजना के तहत एक वर्ष में मात्र 100 करोड़ रुपये दिये हैं।" उन्होंने कहा, ''130 करोड़ की जनसंख्या में यह देश के प्रति नागरिक एक पैसा भी नहीं बैठता। उन्होंने दावा किया कि उनकी सरकार ने राज्य में 'कन्याश्री योजना के तहत हजारों करोड़ रुपये खर्च किये हैं।"

सशर्त नकदी हस्तांतरण योजना 'कन्याश्री को बालिका को उसकी शिक्षा और उसके कल्याण में सहायता के लिए संयुक्त राष्ट्र जनसेवा पुरस्कार मिला है। मोदी के इस आरोप पर कि बनर्जी पश्चिम बंगाल के विकास के रास्ते में 'स्पीड ब्रेकर हैं, उन्होंने अपनी सरकार द्वारा शुरू की गई कई कल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का उल्लेख किया। उन्होंने दावा किया कि केंद्र की भाजपा नीत राजग सरकार ने आईसीडीएस और आशा जैसी महिलाओं के कल्याण के लिए शुरू की गई कई परियोजनाओं के लिए राशि में कटौती कर दी है। हालांकि पश्चिम बंगाल में उनकी सरकार ने इन योजनाओं को राज्य सरकार के वित्तपोषण से चालू रखा।

राहुल गांधी ने कहा, 'न्याय योजना' का बोझ मध्यम वर्ग पर नहीं पड़ेगा; नोटबंदी को बताया 'विध्वंसकारी'

उन्होंने दार्जिलिंग जिले में एक चुनावी रैली में कहा, ''मोदी कहते हैं कि बंगाल में कुछ भी (विकास) नहीं हुआ। मैं पूछती हूं कि दिल्ली में क्या हुआ?" उन्होंने सवाल किया कि क्या मोदी सरकार ने तराई...दोआर और दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र में एक भी बंद हुआ चाय बागान खुलवाया है जबकि उसने ऐसा करने का वादा किया था। उन्होंने दावा किया कि प्रधानमंत्री की ओर से घोषित कई विकास योजनाएं 'दिखावा' है और इससे लोगों की बहुत कम मदद हुई।

बनर्जी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस...गोरखा जनमुक्ति मोर्चा गठबंधन ने लोकसभा चुनाव के लिए अमर सिंह राय को लोकसभा चुनाव में मैदान में उतारा है जो कि माटी के सपूत हैं, जबकि भाजपा ने 2014 में दार्जिलिंग सीट पर एक ''बाहरी" को उतारा जो जीते और राज्य की मांग को लेकर दार्जिलिंग पर्वतीय क्षेत्र में महीनों चली अशांति के दौरान नदारद रहे। भाजपा ने एस एस अहलूवालिया के स्थान पर इस बार राजू बिस्ता को अपना उम्मीदवार बनाया है। बनर्जी ने दावा किया कि वह पर्वतीय क्षेत्र में शांति लेकर आयीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mamata Banerjee in Naxalbari Target Centre Govt Beti Bachao Scheme