Major terrorist Attack in J&K Anantnag district over Amarnath Pilgrims - नापाक हरकत: अनंतनाग में बड़ा आतंकी हमला, 7 अमरनाथ यात्रियों की मौत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नापाक हरकत: अनंतनाग में बड़ा आतंकी हमला, 7 अमरनाथ यात्रियों की मौत

Security person stand guard after militants opened fire on the Amarnath Yatra in which some pilgrims

1 / 3Security person stand guard after militants opened fire on the Amarnath Yatra in which some pilgrims were killed in Anantnag in Jammu and Kashmir

सुरक्षा में तैनात जवान

2 / 3सुरक्षा में तैनात जवान

Terrorist Attack in J&K Anantnag District over Amarnath pilgrims

3 / 3Terrorist Attack in J&K Anantnag District over Amarnath pilgrims

PreviousNext

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार को पाक परस्त आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों की बस पर हमला कर दिया। इसमें सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई। जबकि 32 अन्य घायल हो गए हैं। मरने वालों में छह महिलाएं शामिल हैं। हमला रात करीब 8:20 बजे हुआ। 

घायलों में से कई की हालत नाजुक बनी हुई है। उन्हें अनंतनाग और श्रीनगर के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने सात यात्रियों के मारे जाने की पुष्टि की है। 

बाइक पर आए थे आतंकी
जानकारी के मुताबिक दो हमलावर बाइक पर आए थे। आतंकवादियों ने पहले पुलिस की बख्तरबंद गाड़ी पर हमला किया। जब पुलिस ने जवाबी गोलीबारी की तो आतंकवादी अंधाधुंध गोलियां चलाते हुए फरार हो गए। अमरनाथ यात्रियों से भरी एक बस सोनमर्ग से आ रही थी। श्रद्धालु अमरनाथ गुफा के दर्शन करके वापस लौट रहे थे।  इसी दौरान आतंकियों ने बस पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। हमले के बाद एहतियात के तौर पर जम्मू-श्रीनगर हाईवे को बंद कर दिया गया है। 

गुजरात की है बस
मरने वाले सभी  श्रद्धालु गुजरात के रहने वाले हैं। बस का नंबर जीजे 09 जेड 9976 है। बस में 17 यात्री सवार थे।

अमरनाथ यात्रा हमला: श्राइन बोर्ड में रजिस्टर्ड नहीं थी श्रद्धालुओं की बस

यात्रा नियमों का उल्लंघन किया
पुलिस ने दावा किया कि बस चालक ने तीर्थयात्रा के नियमों का उल्लंघन किया क्योंकि रात सात बजे के बाद किसी यात्रा वाहन को राजमार्ग पर चलने की अनुमति नहीं होती। 

सीआरपीएफ का काफिला था निशाने पर
पुलिस का कहना है कि आतंकियों के निशाने पर अमरनाथ यात्री नहीं थे। हमला सीआरपीएफ के काफिले को निशाना बनाकर किया गया। लेकिन बस के साथ कोई सुरक्षा काफिला नहीं था।   

सात अगस्त तक चलेगी यात्रा
इस बार अमरनाथ यात्रा 29 जून को आरंभ हुई थी और 7 अगस्त तक चलेगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने तीर्थयात्रा के शांतिपूर्ण संचालन के लिए राज्य सरकार की मदद हेतु 40,000 अतिरिक्त केंद्रीय सुरक्षाबलों की तैनाती की है।  सुरक्षाबल श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा, ड्रोन, बुलेटप्रूफ मोबाइल बंकर सहित अन्य उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे हैं। बता दें किसुरक्षा एजेंसियों ने पहले ही अमरनाथ यात्रा पर आतंकी खतरे को लेकर आगाह किया था।  

अमरनाथ यात्रियों पर पहले भी हमले
2000 - 1 अगस्त  :  आतंकियों ने पहलगाम में बेस कैंप पर हमला किया था जिसमें श्रद्धालु और स्थानीय लोग समेत 30 लोग मारे गए थे
2001 – 23 जुलाई : अमरनाथ यात्रियों के शिविर पर हमले में 13 श्रद्धालु और पुलिसकर्मी मारे गए। 
2002 - 30 जुलाई : दो अमरनाथ यात्री ग्रेनेड हमले में मारे गए। 
2002 -  6 अगस्त  : पहलगाम के लिद्दर में एक शिविर पर लश्कर के आंतकी हमले में 10 श्रद्धालु मारे गए। 
2015 - 29, जुलाई  : अनंतनाग में यात्रा मार्ग पर ग्रेनेड फटा, कई यात्री घायल 
2016  13 जुलाई  : अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले के बाद यात्रा रोकी गई।

पिछले महीने किया था अलर्ट 
26 जून 2017 को कश्मीर जोन के पुलिस महानिरीक्षक ने एक बेहद गोपनीय चिट्ठी के बारे में बताते हुए महकमे को अलर्ट किया था। इस चिट्ठी में कहा गया था कि आतंकवादियों ने अमरनाथ की यात्रा में विघ्न पैदा करने की फिराक में है। वे यात्रियों पर हमला कर कम से कम 100-150 लोगों को हताहत करना चाहते हैं। इस चिट्ठी में पुलिस के जवानों-अफसरों को भी बड़े पैमाने पर निशाना बनाने की बात की गई है। चिट्ठी में कहा गया था कि ऐसे हमले से देशभर में सांप्रदायिक दंगे शुरू हो जाएंगे और इससे देश विरोधी तत्वों को फायदा होगा।

कश्मीर में इंटरनेट सेवा निलंबित
कश्मीर घाटी में इंटरनेट सेवा सोमवार रात से निलंबित कर दी गई। सोशल मीडिया पर कश्मीर जागरूकता अभियान शुरू करने की अलगावादियों की अपील के बाद यह कदम उठाया गया है। यह मुहिम मंगलवार से शुरू होगी। हिज्बुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के एक साल होने पर कानून और व्यवस्था की समस्या की आशंका से शुक्रवार और शनिवार को प्रशासन द्वारा सेवा रोकने के एक दिन बाद यह कदम उठाया गया। अधिकारियों ने बताया कि मोबाइल और ब्रॉडबैंड सहित इंटरनेट सेवाएं कश्मीर घाटी में निलंबित कर दी गई हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Major terrorist Attack in J&K Anantnag district over Amarnath Pilgrims