ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशमहुआ मोइत्रा मामले ने INDIA को दिया एकजुटता दिखाने का मौका, कांग्रेस-TMC के बीच कम हुई दूरी

महुआ मोइत्रा मामले ने INDIA को दिया एकजुटता दिखाने का मौका, कांग्रेस-TMC के बीच कम हुई दूरी

Mahua Moitra: तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष और ममता बनर्जी ने महुआ मोइत्रा के खिलाफ हुई कार्रवाई को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि हमारी पार्टी इंडिया गठबंधन के साथ मिलकर सरकार के खिलाफ लड़ाई लड़ेगी।

महुआ मोइत्रा मामले ने INDIA को दिया एकजुटता दिखाने का मौका, कांग्रेस-TMC के बीच कम हुई दूरी
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Sat, 09 Dec 2023 06:10 AM
ऐप पर पढ़ें

रिश्वत लेकर सवाल पूछने के मामले में तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा को लोकसभा की सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया। पर इस मुद्दे पर इंडियन नेशनल डेवलेपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस (इंडिया) ने जिस तरह महुआ मोइत्रा का साथ दिया, उससे गठबंधन को मजबूती मिली है। दो दिन पहले इंडिया गठबंधन में शामिल पार्टियों के संसदीय दल के नेताओं की बैठक से दूर रही तृणमूल कांग्रेस ने घटक दलों को धन्यवाद दिया है।

तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष और ममता बनर्जी ने महुआ मोइत्रा के खिलाफ हुई कार्रवाई को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि हमारी पार्टी इंडिया गठबंधन के साथ मिलकर सरकार के खिलाफ लड़ाई लड़ेगी। लोकसभा में जब महुआ के खिलाफ आचरण समिति की सिफारिशों पर चर्चा हो रही थी, उस वक्त इंडिया गठबंधन के सभी घटकदलों के सांसद साथ नजर आए। सभी घटक दलों ने एक साथ रिपोर्ट के खिलाफ सदन से वॉकआउट किया।

सदस्यता खत्म होने के बाद जब महुआ मोइत्रा संसद भवन में मीडिया से रूबरू हुई, तो कांग्रेस संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी लगातार उनके पीछे खड़ी नजर आई। सोनिया गांधी के साथ घटक दलों के तमाम सांसदों ने भी लगातार मोइत्रा का समर्थन किया। कांग्रेस रणनीतिकार भी मानते हैं कि इससे गठबंधन की एकजुटता को बल मिला है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इसके बाद घटक दलों के अंदर उठ रहे सवालों पर भी लगाम लगेगी।

पांच में से चार राज्यों में हार के बाद घटकदलों में जिस तरह बयानबाजी हुई, गठबंधन के उत्साह में कमी आई। छह दिसंबर को विपक्षी नेताओं की बैठक स्थगित होने के बाद कांग्रेस ने उसी दिन संसदील दल के नेताओं की रात्रिभोज पर बैठक बुलाई, पर तृणमूल कांग्रेस अनुपस्थित रही। हालांकि, कांग्रेस सांसद नासिर हुसैन ने कहा था कि टीएमसी ने पहले ही बता दिया था कि वह बैठक में हिस्सा नहीं ले पाएगी पर गैरहाजिरी से सवालों को बल मिला था।

इंडिया गठबंधन की चौथी बैठक दिसंबर के तीसरे सप्ताह में होने की उम्मीद है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि दिल्ली में होने वाली इस बैठक में लोकसभा चुनाव की रणनीति और सामूहिक चुनाव प्रचार के साथ सीट बंटवारे पर विस्तार से चर्चा होने की उम्मीद है। इंडिया गठबंधन की अब तक पटना, बेंगलुरु और मुंबई में तीन बैठकें हो चुकी हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें