Maharashtra Haryana Election 2019 Election Commission made these important announcements know what will be new live updates - Maharashtra, Haryana Election 2019: चुनाव आयोग ने की ये महत्वपूर्ण घोषणाएं, जानें क्या होगा नया DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Maharashtra, Haryana Election 2019: चुनाव आयोग ने की ये महत्वपूर्ण घोषणाएं, जानें क्या होगा नया

maharashtra  haryana election 2019

केंद्रीय चुनाव आयोग ने आज शनिवार को हरियाणा और महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों की घोषणा कर दी है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा चुनाव ने तारीखों का ऐलान किया, उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होंगे। जबकि चुनावों के परिणाम 24 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे। महाराष्ट्र की 288 सदस्यों वाली विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर को समाप्त हो रहा है। हरियाणा की 90 सदस्यों वाली विधानसभा का कार्यकाल 2 नवंबर को समाप्त हो रहा है। सुनील अरोड़ा ने बताया कि दोनों राज्यों में 27 सितंबर को अधिसूचना जारी कर दी जाएगी। 4 अक्टूबर तक उम्मीदवार नामांकन भर सकेंगे। 7 अक्टूबर तक नामांकन वापिस लिया जा सकेगा। इसके साथ ही दूसरे राज्यों की 64 विधानसभा सीटों और बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव भी 21 अक्टूबर को कराए जाएंगे। महाराष्ट्र और हरियाणा में एक चरण में मतदान होंगे। चुनाव की तारीख के ऐलान के साथ ही दोनों राज्यों में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है। अब दोनों राज्यों में नई घोषणाएं नहीं की जा सकेंगी। महाराष्ट्र में 8.9 करोड़ वोटर और हरियाणा में 1 करोड़ 28 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

चुनाव से जुड़ी मुख्य बातें...

-अगर कोई उम्मीदवार अपने आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी नहीं देता है तो उसका पर्चा रद्द किया जाएगा।

-सभी उम्मीदवारों को अपने हथियार जमा कराने होंगे। वहीं, चुनाव खर्च की निगरानी पर्यवेक्षक करेंगे।

-महाराष्ट्र में 8.9 करोड़ और हरियाणा में 1.82 करोड़ रजिस्टर्ड वोटर हैं: सुनील अरोड़ा।

-हरियाणा और महाराष्ट्र सरकार का कार्यकाल 2 और 9 नवंबर को खत्म हो रहा है।

-चुनाव में पर्यावरण का ख्याल रखा जाए। प्लास्टिक का इस्तेमाल न हो: सुनील अरोड़ा।

-चुनाव में उम्मीदवार 28 लाख रुपये तक खर्च कर सकते हैं, खर्च पर पर्यवेक्षक द्वारा निगरानी रखी जाएगी।

-लोकसभा चुनाव की तरह विधानसभा चुनाव में भी ईवीएम और वीवीपैट की पर्चियों का मिलान होगा।

-दोनों राज्यों में आचार संहिता लागू हो गई है।

-हरियाणा और महाराष्ट्र सरकार का कार्यकाल 2 और 9 नवंबर को खत्म हो रहा है।

उपचुनाव

अरुणाचल (1), असम (4), बिहार (5), छत्तीसगढ़ (1), गुजरात (4), हिमाचल प्रदेश (2), कर्नाटक (15), केरल (5), मध्य प्रदेश (1), मेघालय (1), राजस्थान (2), सिक्किम (3), तमिलनाडु (2), तेलंगाना (1), यूपी की 11 सीटों पर उपचुनाव होगा।

यह है पूरी प्रक्रिया

विधानसभा चुनावों की तारीखों घोषणा होते ही दोनों राज्यों में आदर्श चुनाव संहिता लागू हो गई है। चुनाव घोषणा करने के सात दिन के अंदर आयोग को नोटिफिकेशन जारी करना होता है। नोटिफिकेशन जारी करने के बाद सातवें दिन नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाती है। नामांकन भरने के अंतिम दिन के बाद अगले दिन चुनाव अधिकारी उम्मीदवारों के फॉर्म की छंटनी करता है। छंटनी करने बाद दो दिन का समय नाम वापसी के लिए दिया जाता है।

2014 में हरियाणा और महाराष्ट्र का चुनावी ग्राफ

हरियाणा में 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में 90 में से 47 सीटों पर भाजपा को जीत मिली थी। पहली बार हरियाणा में भाजपा को अपने दम पर बहुमत मिला था। मनोहर लाल खट्टर की अगुवाई में वहां सरकार बनाई गई। वहीं, महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों में 122 सीटों पर भाजपा को जीत मिली। भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। 25 सालों में पहली बार शिवसेना और भाजपा ने अलग-अलग चुनाव लड़े और अपने दम पर कोई भी बहुमत हासिल नहीं कर सका। चुनाव के बाद भाजपा-शिवसेना फिर गठबंधन कर सरकार बनाई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Maharashtra Haryana Election 2019 Election Commission made these important announcements know what will be new live updates