DA Image
6 जुलाई, 2020|5:01|IST

अगली स्टोरी

उद्धव ने कहा, पिछली बार जब ट्रेन को लेकर पीयूष गोयल से बात हुई तो वे गुस्से में आ गए

maharashtra cm uddhav thackeray  file pic

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को मीडिया को संबोधित करते हुए कई रियायतों का ऐलान किया है तो वहीं दूसरी तरफ उन्होंने रेल मंत्री पीयूष गोयल को श्रमिकों के घर जाने के लिए ट्रेन के इंतजाम करने पर उनका धन्यवाद भी किया। उद्धव ने कहा कि पिछली बार जब उन्होंने पीयूष गोयल से बात की थी तो वह गुस्से में आ गए थे लेकिन आज वे उन्हें ट्रेन का इंतजाम करने के लिए धन्यवाद देते हैं। महाराष्ट्र सीएम ने कहा कि करीब 11 लाख प्रवासियों ने 800 ट्रेनों में अपने घर वापसी की।

उद्धव ने आगे कहा कि अगले रविवार को महाराष्ट्र में अखबारों की डोर स्टेप डिलीवरी की इजाजत दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगले दो से तीन दिन में ऐसा अनुमान है कि चक्रवात तूफान आ सकता है। इसलिए मछुआरों से अनुरोध है कि वे अगले 3-4 दिनों तक समुद्र में जाने से परहेज करें।

महाराष्ट्र सरकार ने 30 जून तक लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की

महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू पाबंदियों में 'मिशन बिगिन अगेन के तहत चरणबद्ध तरीके से ढील देने की रविवार को घोषणा की। राज्य में पांच जून से गैर निरुद्ध क्षेत्रों में सभी बाजार, बाजार क्षेत्रों और दुकानों को सम-विषम आधार पर खोलने की अनुमति है।  हालांकि, धार्मिक स्थल, शॉपिंग मॉल, होटल, रेस्तरां आदि बंद रहेंगे।

राज्य सरकार ने पूरे राज्य में 30 जून तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है और केन्द्र सरकार द्वारा 'अनलॉक 1 के तहत ढील देने की घोषणा के एक दिन बाद इसके लिए नया नाम 'मिशन बिगिन अगेन गढ़ा। महाराष्ट्र कोरोना वायरस से सर्वाधिक प्रभावित राज्य है और यहां संक्रमण के 65,168 मामले हैं और 2,197 लोगों की मौत हो चुकी है।

राज्य सरकार ने सुबह की सैर, साइकिल चलाने जैसी बाहरी गतिविधियों की अनुमति दी है। इसके अतिरिक्त लोग सार्वजनिक स्थानों में भी व्यायाम कर सकते हैं। नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, सभी निजी कार्यालय आठ जून से अपनी जरूरत के हिसाब से 10 प्रतिशत तक कर्मचारियों के साथ काम शुरू कर सकते हैं, शेष कर्मचारी घर से ही काम करेंगे। राज्य सरकार के कार्यालयों में 15 प्रतिशत कर्मचारियों अथवा 15 कर्मचारियों, जो भी अधिक हो, उनसे काम शुरू किया जाएगा।  

नल ठीक करने, बिजली ठीक करने और कीट नियंत्रण जैसे काम करने वाले लोगों को काम करने की अनुमति दी जाएगी, लेकिन उन्हें सामाजिक दूरी के नियम का पालन करना होगा। गैरेज भी काम शुरू कर सकते हैं और ग्राहक पहले से समय ले कर वहां जा सकते हैं। जिले के भीतर बस सेवा को अनुमति दी गई है। लेकिन ये बसें क्षमता से केवल 50 प्रतिशत ही भरी जाएंगी। जिलों के बीच बस सेवा अभी बंद रहेंगी।

इसमें कहा गया है मुंबई, सोलापुर, पुणे, औरंगाबाद, मालेगांव, नासिक, धुले, जलगांव, अकोला, अमरावती, नागपुर और मुंबई महानगर क्षेत्र के रेड जोन में इन गतिविधियों को अनुमति दी जाएगी। हालांकि, इस तरह की गतिविधियां निरुद्ध क्षेत्रों में शुरू नहीं होंगी। अभी सरकार ने शिक्षण संस्थानों, अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा, मेट्रो रेल को मंजूरी नहीं दी है, वहीं ट्रेन यात्रा और घरेलू हवाई यात्रा की जरूरत होने पर अलग से आदेश से विशेष मंजूरी दी जाएगी।

सिनेमा हॉल, व्यायामशाला, स्विमिंग पूल, सार्वजनिक पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल, धार्मिक स्थल, ब्यूटी पार्लर, नाई की दुकान, सैलून, शॉपिंग मॉल, होटल, रेस्तरां और अन्य आतिथ्य सेवाएं शुरू करने की अनुमति नहीं होगी। हालांकि, चिकित्सा पेशेवरों, स्वच्छता कर्मियों और एम्बुलेंस को राज्य और राज्य के बाहर आने-जाने की अनुमति होगी।

गौरतलब है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को कहा था कि देश में आठ जून से 'अनलॉक-1 शुरू किया जाएगा, जिसके तहत 25 मार्च को देश भर में लागू किए गए लॉकडाउन में काफी हद तक ढील दी जाएगी। इसमें शॉपिंग मॉल, रेस्तरां और धार्मिक स्थल खोलना भी शामिल है। वहीं, देश भर में 30 जून तक पाबंदियां लागू रहेंगी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Maharashtra CM Uddhav Thackeray says last time when he talked to Piyush Goyal about the train he got angry