DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

PM मोदी ने किया गया की धरती को नमन, कहा- महामिलावटी और आतंकियों को चौकीदार से परेशानी

pm nrendra modi public meeting in gaya bihar  bjp twitter 2 april  2019

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को गया में एक रैली को संबोधित करते हुए पूर्ववर्ती सरकारों पर हमला बोला। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस पार्टी और महागठबंधन की भी जमकर आलोचना की। अपने भाषण का आरंभ उन्होंने 'गया की धरती को नमन करही। अपने सब के अभिनंदन करीत ही' के साथ किया।पीएम मोदी ने जैसे ही बोलना शुरू किया वहां मौजूद लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाने शुरू कर दिये।

मोदी ने वहां मौजूद जनता से कहा, 'देश में जो कुछ प्रगति हो पा रही है, ये सिर्फ आप सबके सहयोग के कारण हुआ है। मैं दोनों हाथ जोड़कर जनता का धन्यवाद करता हूं। चौकीदार ने आपके लिए जो कुछ किया उससे आप खुश हैं। बाकी बचा काम भी यही चौकीदार पूरा करेगा। आपको विश्वास है। गया, औरंगाबाद का यही विश्वास 11 अप्रैल को बटन दबाकर मोदी सरकार बनायेगा।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र के भाषण की अहम बातें

देश में रहने वाले और विदेश में निवास करने वाले भारतीय भाई-बहन चौकीदार को आर्शीवाद दे रहे हैं। देश व दुनिया में दो तरह के लोग हैं जिन्हें चौकीदार से परेशानी है। जो चौकीदार से परेशान हैं उनमें एक महामिलावटी और दूसरे आतंकवादी व उनके मददगार। ये लोग परेशान क्यों हैं ये जानना भी जरुरी है।

भगवान बुद्ध के शांति के मार्ग को जानने व समझने के लिए दुनिया भर के लोग यहां आते हैं। शांति की अनुभूति करते थे। ऐसी जगह पर 7 जुलाई 2014 को बम धमाका कर बिहार को हिला दिया गया था। 2014 से पहले देश में बम धमाके होते थे। मोदी ने लोगों से सवाल पूछे: होते थे कि नहीं? निर्दोष को मारा जाता था कि नहीं? आतंकी संगठन डर का माहौल बनाते थे।

कांग्रेस जब-जब सत्ता में आती है, शासन उल्टी दिशा में चलने लगता है:मोदी

मई 2014 के बाद आतंकी संगठन पस्त पड़ गए। कहा चले गए वो स्लीपर सेल। पुलिस वही, इंटेलिजेंस एजेंसी वही, सूचना तंत्र वही, सामर्थ व कौशल वही। तो फिर बदला क्या- इन्हें चुप मोदी ने नहीं आपके वोट की ताकत ने किया। आपका वोट हिंदुस्तान की कितनी बड़ी सेवा करता है। यह देश ने पांच साल में देखा है। कुछ बदला है तो रीत व नीति बदली। दिल्ली में चौकीदार की सरकार आयी। परिणाम आपके सामने है।

पुलिस, सुरक्षा एजेंसी में पहले भी कमी नहीं थी। कमी थी राजनीतिक आजादी की। सुरक्षाबल जान दांव पर लगाकर आतंकी को पकड़ते थे। लेकिन ये महामिलावटी वाले वोट के लिए उन्हें छोड़ देते थे। इसी वजह से आतंक की जड़ें भारत में मजबूत हुईं। हजारों जीवन इनकी राजनीति की भेंट चढ़ गई।

इनलोगों ने जांच सही से नहीं हो इसके लिए हवा खड़ा किया- हिंदू आतंकवाद का। हिंदुओं को भारत में आतंक के लिए जिम्मेदार ठहराया। इन लोगों ने आतंक के खिलाफ ऐसी लड़ाई लड़ी है। अब चौकीदार पूरी तरह से आतंक को कुचलने में जुटा है, तो चौकीदार को गाली दे रहे। आप सबों को सावधान होना है। जात-पात करने वाले, नक्सलवाद व आतंकवाद से लड़ाई नहीं लड़ सकते। आतंकी को वैचारिक समर्थन देने वाले यही लोग हैं। भटके नौजवानों को रास्ते पर लाने के लिए दिमाग लगाने चाहिए थे। लेकिन ये लोग भड़काने में लगे हैं। खून खराबे को बढ़ावा देने वालों के खिलाफ चौकीदार चौकन्ना है।

सफाई करने वाले, झाड़ू लगाने वाले समेत काम करने वालों सभी से महामिलावट को नफरत है। काम करके अपने दम पर कोई कैसे आगे बढ़ जाता है, इससे इन्हें नफरत है। इसलिए हमें गाली दे रहे हैं। कांग्रेसी हमें शौचालय के चौकीदार बताते हैं। कुंभ में सफाई करने वाले का स्वच्छता के चौकीदार के पैर धोकर आपके इस चौकीदार ने जब आभार जताया तो हमें गालियां दी गई। क्या यह सफाई करने वालों का यह अपमान नहीं है। सवाल पूछें- यह अपमान आपको मंजूर है? गरीबों का अपमान मंजूर है? दशरथ मांझी जैसे लोगों का यह क्षेत्र ऐसे लोगों को सबक सीखायेगा। एनडीए सरकार सबका साथ-सबका विकास का काम करता है। सरकार के द्वारा पांच साल में किये गए कामों को भी मोदी ने गिनवाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mahagathbandhan Terrorist Scared From Chowkidar Says PM Narendra Modi in Gaya Rally