DA Image
12 अगस्त, 2020|5:07|IST

अगली स्टोरी

'जय श्रीराम' नहीं बोलने पर मदरसा शिक्षक समेत 3 को चलती ट्रेन से धक्का, ममता देंगी मुआवजा

1 / 2पीड़ित मदरसा शिक्षक

2 / 2प्रतीकात्मक तस्वीर

PreviousNext

पश्चिम बंगाल में एक मदरसे के शिक्षक ने शिकायत दर्ज कराई है कि 'जय श्री राम' नहीं बोलने की वजह से कुछ लोगों के एक समूह ने उसे पीटा और चलती ट्रेन से धक्का दे दिया। पश्चिम बंगाल के कोलकाता की एक ट्रेन में कथित रूप से 'जय श्रीराम' का नारा लगाने से कथित रूप से इनकार करने पर ट्रेन से धकेल दिये पर घायल हुए तीन लोगों को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को मुआवजा देने की घोषणा की। शहर में सोमवार को एक चलती ट्रेन से मदरसा शिक्षक और दो अन्य को कथित रूप से धक्का दे दिया गया था।

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, ममता बनर्जी ने पत्रकारों को बताया, ''मैंने पीड़ितों से बात की है और तीनों के लिए 50-50 हजार रुपये के मुआवजे की घोषणा की है। हमलोग ऐसी घटनाओं की निंदा करते हैं और मामले में पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी। हम राज्य में ऐसी चीजें नहीं होने देंगे।

घटना में मामूली रूप से जख्मी हुए हाफिज मोहम्मद शाहरुख हलदर ने कहा, ''कुछ लोगों के समूह ने मुझ पर और दो अन्य पर हमला किया। हमलोगों को पीटा गया और फिर हम सभी को पार्क सर्कस रेलवे स्टेशन पर ट्रेन से बाहर फेंक दिया गया। ममता बनर्जी ने भाटपाड़ा राजनीतिक हिंसा के पीड़ितों के लिये भी मुआवजे की घोषणा की।

दरअसल, पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के 26 वषीर्य मदरसा शिक्षक हफीज मोहम्मद शाहरुख हलदर ने कहा कि उन पर हमला बीती गुरुवार को हुआ, जब वह ट्रेन से कैनिंग से हुगली जा रहे थे। अधिकारी ने कहा कि हलदर ने सोमवार को बालीगंज जीआरपीएस में अज्ञात लोगों के खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Madrasa Teacher Pushed Off Bengal Train after not chanting Jai Shri Ram in kolkata