DA Image
21 अप्रैल, 2021|2:43|IST

अगली स्टोरी

रामनवमी पर मास्क बांटने निकले 'भगवान राम', कोरोना से बचने को दिया मर्यादा का संदेश

karnataka

कोरोना संक्रमण के बीच आज देश रामनवमी का पावन पर्व मना रहा है। हालांकि देश के अधिकांश हिस्सों में संक्रमण को देखते हुए पाबंदियां लगी हैं। कुछ शहरों में लॉकडाउन तो कुछ में नाइट कर्फ्यू। इतना ही नहीं लोगों से कोरोना गाइडलाइन्स का पालन करने के लिए अपील भी की जा रही है। दुनिया को मर्यादा का संदेश देने वाले 'भगवान राम' को आज कर्नाटक की सड़कों पर लोगों को मास्क पहनने के लिए अपील करते हुए देखा गया। 

जी हां, हम बात कर रहे हैं कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु की। यहां के एक होटल के तीन कर्मचारियों ने जो किया वह वाकई सराहनीय पहल है। अभिषेक, नवीन और बाशा ने भगवान राम, कृष्ण और हनुमान के स्वरूप में सड़कों पर लोगों से मास्क पहनने की अपील की। इन्होंने लोगों के बीच मास्क भी बांटे। सोशल मीडिया में इनके इस पहले की लोग सराहना कर रहे हैं। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज रामनवमी के अवसर पर लोगों को बधाई दी और देशवासियों से कोरोना से बचाव के सभी उपायों का पालन करने तथा 'दवाई भी, कड़ाई भी' के मंत्र को याद रखने का आह्वान किया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ''आज रामनवमी है और मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का हम सभी को यही संदेश है कि मर्यादाओं का पालन करें। कोरोना के इस संकट काल में, कोरोना से बचने के जो भी उपाय हैं, कृपया करके उनका पालन कीजिए। 'दवाई भी, कड़ाई भी' के मंत्र को याद रखिए।'' उन्होंने कहा, ''रामनवमी की मंगलकामनाएं। देशवासियों पर भगवान श्रीराम की असीम अनुकंपा सदा बनी रहे। जय श्रीराम!''

इससे पहले उन्होंने देश के नाम अपने संबोधन में रामनवमी के मौके पर मयार्दा पुरूषोत्तम राम का उदाहरण देते हुए कहा कहा कि देशवासियों को कोविड व्यवहार की सभी मयार्दाओं का पूरी तरह पालन करने का संकल्प लेना होगा। 

आपको बता दें कि रामनवमी का त्योहार भगवान राम के जन्म से जुड़ा है। मान्यता है कि चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को भगवान राम का अयोध्या में जन्म हुआ था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:lord Rama came to explain the corona rule on Ram Navami DISTRIBUTED MASK TO PEOPLE ON ROAD