DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ममता के गढ़ में गरजे पीएम मोदी, बोले- तृणमूल के 40 विधायक संपर्क में

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस के 40 विधायक उनके संपर्क में हैं। आम चुनाव के नतीजे आने के बाद ये विधायक अपनी पार्टी छोड़ देंगे। श्रीरामपुर में एक चुनावी रैली के दौरान मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री पद की महत्वाकांक्षा पर मोदी ने कहा, चंद सीटों के दम पर, दीदी आप दिल्ली नहीं पहुंच सकतीं। दिल्ली अभी दूर है। उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली जाना केवल एक बहाना है। उनका इरादा अपने भतीजे को राजनीतिक रूप से स्थापित करना है। ममता के भतीजे अभिषेक डायमंड हार्बर से सांसद हैं और इसी सीट से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। 

मोदी ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल उठाने के लिए विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके प्रतिद्वंद्वी उन्हें बुरा भला कहने से आगे बढ़ गए हैं। वे अब ईवीएम की आलोचना कर रहे हैं। उन्होंने कहा, पहले मोदी को ही बुरा भला कहा जाता था, अब ईवीएम को भी कोसा जा रहा है। विपक्ष ऐसा इसलिए कर रहा है क्योंकि वे आसन्न हार देख रहे हैं।

रिमोट से चलनेवाली सरकार चाहती है कांग्रेस: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस देश में ऐसी कमजोर सरकार चाहती है, जो रिमोट से चल सके। कांग्रेस पीछे से खेल खेलती है, मौका पड़ते ही डोर खींच लेती है। वो लोग चाहते हैं कि खिलौने की सरकार चले। 

प्रधानमंत्री सोमवार को गिरिडीह जिले के जमुआ स्थित श्यामडीह मैदान में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। कहा कि तीन चरण के चुनाव के बाद महामिलावट वाले बौखला गए हैं। चौथे चरण के बाद सभी चारों खाने चित हो जाएंगे। हमें जीतना तो है, लेकिन आन-बान-शान से। पहली बार वोट कर रहे युवा खास ध्यान रखें। लोकतंत्र के मंदिर में संविधानरूपी देवता को वोट रूपी फूल अर्पित करें। उन्होंने कहा कि पहले कोयला, चीनी, राशन जैसे घोटाले होते थे। ऐसे सारे घोटालों पर आपके इस चौकीदार ने ताले लगा दिए हैं। सारे घोटालेबाज परेशान हैं। वे चौकीदार को गाली देने तक का रास्ता चुन रहे हैं।

आतंकवाद-नक्सलवाद पर सख्त कदम

विरोधी दलों को निशाने पर लेते हुए मोदी बोले कि कांग्रेस कहती है कि सरकार बनेगी तो देशद्रोह के खिलाफ कानून को खत्म कर देगी। हम कहते हैं कि आतंकवाद और नक्सलवाद को खत्म करेंगे। देश के अंदर और बाहर छिपे गद्दारों को घुसकर मारेंगे। इसके लिए केंद्र में मजबूत सरकार चाहिए। नक्सलियों पर मोदी सख्त दिखे। कहा लाल आतंक को खत्म करेंगे। अब नक्सलियों का प्रभाव क्षेत्र घटा है। 

विकास की पंचधारा

मोदी ने कहा कि हम विकास की पंचधारा लेकर चल रहे हैं। पढ़ाई, कमाई, दवाई, सिंचाई और सुनवाई। युवाओं से वादा किया कि रोजगार दिलाएंगे। बोले-युवाओं को पढ़ाई, बुजुर्गों को दवाई और किसान को सिंचाई के लिए वोट करें। गरीब-पिछड़ों का सबसे ज्यादा ख्याल मोदी सरकार ने रखा। घर, रसोई गैस आदि देकर सामान्य लोगों के विश्वास को बढ़ाया है। उन्होंने दावा किया कि 23 मई को जब मोदी सरकार पुन: बनेगी तो किसानों के लिए पीएम सम्मान योजना का दायरा बढ़ेगा। 

विपक्षियों पर निशाना साधा

प्रधानमंत्री ने कहा कि महामिलावट वालों ने वाजपेयी जी की सरकार बनने से रोकी थी। नतीजा हर दो-एक साल में सरकारें बदली गईं। प्रधानमंत्री बदलते गए। ऐसी सरकार देशहित में नहीं होती। कांग्रेस समर्थित कर्नाटक के सीएम के सेना पर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर मोदी ने कहा कि ये सीएम पूर्व प्रधानमंत्री के पुत्र हैं। ऐसे लोगों को क्या कहेंगे। सेना में जाने वाले वतन और वतन वालों की सुरक्षा के लिए घर छोड़ते हैं। 

लोकसभा चुनाव 2019: दिल्ली में भाजपा को मिला 400 वकीलों का साथ

चुनाव बाद विपक्षी दलों को साथ लाने की पहल करेंगे वामदल

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Loksabha election 2019 40 Trinamool MLAs in touch with me will desert you says PM Modi to Mamata