DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा चुनाव 2019: टीएमसी और भाजपा ने कांग्रेस की राह मुश्किल की

                                   2019

पश्चिम बंगाल में भाजपा को बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। वहीं, कांग्रेस अपना पुराना प्रदर्शन दोहराने की चुनौती से जूझ रही है। राज्य में कांग्रेस का संगठन कमजोर है। पिछले पांच वर्षों के दौरान कई नेताओं के तृणमूल कांग्रेस और भाजपा में शामिल होने की वजह से कांग्रेस और कमजोर हुई है। ऐसे में कांग्रेस के लिए राज्य में जीत की राह आसान नहीं है।

कांग्रेस को नाराजगी का मिलेगा लाभ? पश्चिम बंगाल में कांग्रेस अकेले दम पर चुनाव लड़ रही है। पार्टी रणनीतिकारों को यकीन है कि तृणमूल कांग्रेस से नाराज मतदाता कांग्रेस को विकल्प के तौर पर चुन सकते हैं।

क्योंकि, वाम दल लगातार कमजोर हो रहे हैं और तृणमूल व कांग्रेस के मतदाता एक हैं। ऐसे में कांग्रेस को नाराजगी का फायदा मिल सकता है। वहीं, भाजपा भी तृणमूल और लेफ्ट की लड़ाई में खुद को तीसरे विकल्प के तौर पर देख रही है। भाजपा को ममता बनर्जी से नाराज मतदाताओं के वोट मिलने का भरोसा है।

भाजपा को 17 फीसदी वोट

पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को चार सीट के साथ साढ़े नौ फीसदी वोट मिले थे। वहीं, भाजपा को दो सीट और 17 प्रतिशत वोट मिले। इसके बाद वर्ष 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने लेफ्ट के साथ गठबंधन किया। इन चुनाव में कांग्रेस को 12 फीसदी वोट मिले। यानी तीन फीसदी की वृद्धि हुई। जबकि भाजपा को 10 प्रतिशत वोट मिले। 

माकपा ने अधिक सीटों पर लड़ा था चुनाव पर वोट घटा

पश्चिम बंगाल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि तृणमूल से नाराज मतदाताओं की पहली पसंद कांग्रेस है। विधानसभा चुनाव में यह बात साबित हो चुकी है। यदि ऐसा नहीं होता तो विधानसभा चुनाव में भाजपा के वोट प्रतिशत में वृद्धि होती। हालांकि, लोकसभा चुनाव में भी यही प्रदर्शन बरकरार रहे, इसकी चुनौती कांग्रेस के सामने है। वहीं, लोकसभा चुनाव के मुकाबले विधानसभा में माकपा का वोट भी कम हुआ है। पिछले लोकसभा में लेफ्ट को 23 फीसदी और तीन साल पहले हुए विधानसभा चुनाव में 20 फीसदी वोट मिले थे। जबकि माकपा ने कांग्रेस से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ा था। 

वर्ष 2014 : लोकसभा चुनाव

पार्टी     सीट   प्रतिशत

तृणमूल-  34 39.79  

माकपा-   02 22.96  

भाजपा-   02 17.02  

कांग्रेस-    04 09.69  

(कुल सीटों की संख्या- 42)

लोकसभा चुनाव 2019: मायावती ने EC से पूछा- भाजपा पर मेहरबान क्यों?

तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी को कहा 'फेक ओबीसी’, भाजपा ने किया पलटवार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok Sabha Elections 2019 TMC and BJP create difficulties for Congress