DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP VIP SEATS Results: वाराणसी से पीएम मोदी की विशाल जीत, अमेठी में राहुल को स्मृति ने दी मात, जानें 12 वीआईपी सीटों के नतीजे

 exit poll 2019  rahul gandhi and smriti irani tough competition in amethi lok sabha seat

लोकसभा चुनाव 2019 के सियासी जंग का खत्म हो गया। वोटों की गिनती पूरी होने के साथ ही प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला भी हो गया. देश की 542 लोकसभा सीटों में से यूपी की 80 सीटों पर सबकी नजर अधिक थी। कारण कि यूपी के नतीजे केंद्र की सत्ता की तकदीर लिखते रहे हैं। यूपी की हर एक-एक सीट अपने आप में मायने रखती है। यूपी में वीवीआईपी सीटों पर कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी थी. जिनमें कुछ को जीत नसीब हुई है और कुछ को हार. पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, मुलायम सिंह यादव, सपा प्रमुख और पूर्व सीएम अखिलेश यादव, उनकी पत्नी डिंपल यादव सभी ने अपना भाग्य आजमाया, मगर किसी को हार मिली तो किसी को जीत तो चलिए जानते हैं उत्तर प्रदेश की उन सभी वीआईपी सीटों पर क्या रहे नतीजे...


1. वाराणसी लोकसभा सीट: पीएम मोदी की जीत
उत्तर-प्रदेश की सबसे चर्चित वीआईपी सीट है वाराणसी। वाराणसी सीट से इस बार भी भारतीय जनता पार्टी की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी मैदान बाजी मारा है. पिछली बार भी वाराणसी से पीएम मोदी ने ही जीत हासिल की थी। दरअसल, पीएम मोदी ने 2014 लोकसभा चुनाव में वाराणसी के अलावा गुजरात के वडोदरा से भी चुनाव लड़ा था और दोनों ही जगह से जीत हासिल की थी, लेकिन उन्होंने वाराणसी को अपने संसदीय क्षेत्र के रूप में चुना। इस बार वाराणसी से पीएम मोदी का मुकाबला कांग्रेस के अजय राय और सपा-बसपा गठबंधन की ओर से शालिनी यादव से था.

2. रायबरेली लोकसभा सीट: सोनिया गांधी की जीत
उत्तर-प्रदेश की रायबरेली सीट कांग्रेस पार्टी की मजबूत गढ़ रही है और सोनिया गांधी पांचवीं बार चुनावी मैदान में थीं. इस बार भी कांग्रेस की ओर से सोनिया गांधी ही चुनाव लड़ीं। बीजेपी ने सोनिया गांधी के खिलाफ दिनेश प्रताप सिंह को उतारा था। दिनेश प्रताप सिंह रायबरेली सीट से कांग्रेस एमएलसी थे और वह कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। रायबरेली सीट पर पिछले चार बार से लगातार सोनिया गांधी चुनाव जीतती आ रही हैं। रायबरेली में पांचवें चरण में मतदान हुए।

3. अमेठी लोकसभा सीट:  अमेठी से स्मृति ईरानी की जीत
अमेठी कांग्रेस परिवार की परंपरागत सीट में शुमार है। अमेठी लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी थे। पिछली बार की तरह ही इस बार भी राहुल गांधी का मुकाबला केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से था। बीजेपी ने एक बार फिर से स्मृति ईरानी को राहुल गांधी के खिलाफ मैदान में उतारा था। मगर इस बार ईरानी ने जीत हासिल की. हालांकि, पिछली बार स्मृति ईरानी को हार का सामना करना पड़ा था। राहुल गांधी को सिर्फ वायनाड से जीत मिली है.

4. कन्नौज लोकसभा सीट: अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव हारीं
उत्तर-प्रदेश की कन्नौज लोकसभा सीट मुलायम परिवार का मजबूत गढ़ है। कन्नौज सीट से कई चुनावों से मुलायम परिवार के ही सदस्य जीतते आ रहे थे। पिछले दो चुनाव से अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव चुनाव जीत रही थीं। मगर इस बार सपा की ओर से डिंपल यादव बीजेपी के सुब्रत पाठक से हार गईं। 2014 में भी डिंपल यादव ने बीजेपी के सुब्रत पाठक को हराया था। चौथे चरण में कन्नौज लोकसभा सीट पर वोटिंग हुई थी। 

5. आजमगढ़ लोकसभा सीट: अखिलेश यादव की जीत
यूपी की आजमगढ़ लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद थे मुलायम सिंह यादव। मगर इस बार सपा की ओर से खुद अखिलेश यादव चुनावी मैदान में थे। अखिलेश यादव के खिलाफ बीजेपी ने दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' को उतारा था। अखिलेश यादव के खिलाफ भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' को उतार कर बीजेपी ने सबको चौंका दिया। मगर अखिलेश ने निरहुआ को हरा दिया. आजमगढ़ सीट पर छठे चरण में मतदान हुए। बता दें कि 2014 के लोकसभा चुनाव में मुलायम सिंह यादव ने बीजेपी के रमाकांत त्रिपाठी को हराया था।

6. गाजीपुर लोकसभा सीट: मनोज सिन्हा की हार
पूर्वांचल की गाजीपुर लोकसभा सीट पर सातवें चरण में मतदान हुए। इस सीट पर भाजपा के मनोज सिन्हा और बसपा के अफजल अंसारी के बीच में कड़ी टक्कर हुई। मगर इसमें मनोज सिन्हा की हार हुई. 
 
7. सुल्तानपुर लोकसभा सीट: मेनका गांधी की जीत

सुल्तानपुर लोकसभा सीट से मेनका गांधी जीत गई हैं. इस बार इस सीट पर इस बार बीजेपी ने अपने उम्मीदवार बदले। इस सीट पर भाजपा की मेनका गांधी और बसपा की चंद्रभद्र सिंह के बीच कड़ा मुकाबला था। कांग्रेस ने यहां से डॉ संजय सिंह को उतारा था। 2014 के लोकसभा चुनाव में सुल्तानपुर से मेनका गांधी के बेटे वरुण गांधी ने जीत हासिल की थी। मगर इस बार वरुण गांधी पीलीभीत से चुनाव लड़े। 

8. लखनऊ लोकसभा सीट: राजनाथ सिंह की जीत
लखनऊ लोकसभा सीट पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला था। केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह के खिलाफ कांग्रेस ने जहां आचार्य प्रमोद कृष्णम को उतारा था, वहीं महागठबंधन की ओर से शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा मैदान में थीं। 2014 में इस सीट से राजनाथ सिंह ने कांग्रेस की प्रोफेसर रीता को हराया था। 
  
8. मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट: संजीव बाल्यान की जीत
यूपी की मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर महागठंबधन को ओर से रालोद प्रत्याशी अजित सिंह की हार हुई है. यहां अजित सिंह और भाजपा प्रत्याशी संजीव बाल्यान के बीच सीधी लड़ाई थी।  मुजफ्फरनगर सीट पर पहले चरण में चुनाव हुए थे। यहां से मौजूदा सांसद हैं संजीव बालियान हैं। पिछली बार इस सीट पर संजीव बालियान ने बसपा के कादिर राणा को हराया था। 

9. बागपत लोकसभा सीट: जयंत चौधरी पीछे, सत्यपाल सिंह आगे चल रहे हैं
उत्तर प्रदेश की बागपत लोकसभा सीट पर रालोद के जयंत चौधरी और भाजपा के सत्यपाल सिंह के बीच लड़ाई है। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के सत्यपाल सिंह ने सपा के गुलाम मोह को हराया था। वहीं, 2009 में आरएलडी के अजित सिंह यहां से जीते थे। यहां पहले चरण में ही वोटिंग हुई थी।
 
10. रामपुर लोकसभा सीट: आजम खान ने जयाप्रदा को हराया
यूपी में इस बार रामुपर लोकसभा सीट पर आजम खान ने जया प्रदा को हरा दिया है. इस बार जयाप्रदा भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ी थीं। जयाप्रदा पर विवादित टिप्पणी के लिए आजम खान को प्रचार के दौरान चुनाव आयोग की ओर से 72 घंटे का बैन झेलना पड़ा था। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी की ओर से नेपाल सिंह ने जीत हासिल की थी। हालांकि, इस सीट से जयाप्रदा सपा की टिकट पर पहले भी चुनाव जीत चुकी हैं। रामपुर में लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण में वोटिंग हुई। 

11. गौतमबुद्ध नगर लोकसभा सीट: महेश शर्मा जीते
लोकसभा चुनाव 2019 के रण में यूपी की गौतमबुद्ध नगर सीट से केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा की जीत हुई है। इस सीट से पिछली बार भी महेश शर्मा ने जीत हासिल की थी। मगर इस बार केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा के सामने SP-BSP-RLD गठबंधन के साझा प्रत्याशी के रूप में BSP के सतवीर नागर हैं और इस सीट पर BSP का खासा वोट बैंक माना जाता है। यही वजह है कि यहां पर कड़ी टक्कर देखने को मिली। 

12. गाजियाबाद लोकसभा सीट: केंद्रीय मंत्री वीके सिंह की जीत
गाजियाबाद लोकसभा सीट के नतीजे इसलिए भी मायने रखती हैं, क्योंकि इस सीट पर केंद्रीय मंत्री वीके सिंह चुनाव लड़ रहे थे। पिछली बार भी केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने चुनाव जीता था। इस सीट से कांग्रेस ने डॉली शर्मा को उतारा है, वहीं महागठबंधन की ओर से सुरेश बंसल चुनावी मैदान में हैं। बता दें कि पहले चरण में ही इस सीट पर मतदान हुए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lok sabha election results 2019 LIVE vip seats of Uttar Pradesh lok sabah chunav varanasi PM Modi amethi Rahul Gandhi Congress BSP SP