DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  तमिलनाडु में लगातार नहीं बढ़ाया जा सकता लॉकडाउन, मुख्यमंत्री बोले- लोगों का सहयोग जरूरी

देशतमिलनाडु में लगातार नहीं बढ़ाया जा सकता लॉकडाउन, मुख्यमंत्री बोले- लोगों का सहयोग जरूरी

एजेंसी,चेन्नईPublished By: Ashutosh Ray
Tue, 01 Jun 2021 05:53 PM
तमिलनाडु में लगातार नहीं बढ़ाया जा सकता लॉकडाउन, मुख्यमंत्री बोले- लोगों का सहयोग जरूरी

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने मंगलवार को कहा कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए लॉकडाउन को लगातार नहीं बढ़ाया जा सकता है लेकिन जनता के पूर्ण समर्थन और सहयोग से ही इस महामारी का उन्मूलन किया जा सकता है। स्टालिन ने राज्य की जनता को एक वीडियो संदेश में कहा, हम लॉकडाउन लगातार नहीं बढ़ा सकते..इस पर जल्द पूर्णविराम लगना चाहिए। 

यह केवल राज्य की जनता के हाथ में है क्योंकि अगर वे अपनी तरफ से पूरा सहयोग करते हैं तथा  दिशानिदेर्शों का पालन करते हैं तो कोरोना पर विजय पाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को लॉकडाउन के प्रतिबंधों का उल्लंघन करते हुए देखा गया है और लोगों के इसी तरह के व्यवहार के कारण लाकडाउन के पूर्ण प्रभाव महसूस नहीं किया जा सका। उन्होंने कहा, हम कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहे है क्योंकि हम पहली लहर को पूरी तरह रोक पाने में असफल रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर से राज्य की अर्थव्यवस्था और स्वास्थ्य आधारित संरचना को चुनौती मिली है और लोगों को यह समझना चाहिए कि लॉकडाउन कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए एक विकल्प है। स्टालिन ने लॉकडाउन के दौरान राज्य सरकार द्वारा लोगों से घरों के अंदर रहने, मोबाइल सब्जी दुकानदारों से सब्जी लेने और राशन लेने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के कारण कोरोना के मामले चेन्नई और राज्य भर के अन्य प्रमुख क्षेत्रों में तेजी से कम हुए हैं। उन्होंने कहा कि चेन्नई में जहां पहले प्रति दिन लगभग 7000 नए मामले दर्ज किए थे, वहां पिछले कुछ दिनों में 2000 मामले सामने आ रहे हैं। स्टालिन ने कहा, आने वाले दिनों में कोरोना के मामलों में और भी कमी आएगी। कोयम्बटूर सहित हालांकि पश्चिमी क्षेत्रों में अभी भी कोरोना के मामलों में तेजी देखी गयी है। लेकिन पिछले दो दिनों में यहां भी मामलों में कमी आई है।

संबंधित खबरें