DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध सिंह को दी गई अंतिम विदाई, अंत्येष्टि में उमड़ा जनसैलाब

Inspector Subodh kumar singh last rites in Eta (ANI Twitter Pic)

1 / 11Inspector Subodh kumar singh last rites in Eta (ANI Twitter Pic)

CM Yogi talks with MLA and MP on Subodh kumar issue

2 / 11CM Yogi talks with MLA and MP on Subodh kumar issue

Late Bulandshahr inspector Subodh kumar's wife Rajni during alst rites (Photo Shailendra)

3 / 11Late Bulandshahr inspector Subodh kumar's wife Rajni during alst rites (Photo Shailendra)

Late Inspector's wife Rajni (ANI Twitter Pic)

4 / 11Late Inspector's wife Rajni (ANI Twitter Pic)

Ratan, mother of Jeetendra who accused in Bulandshahr violence (Photo-ANI)

5 / 11Ratan, mother of Jeetendra who accused in Bulandshahr violence (Photo-ANI)

Anand Kumar, ADG(L&O)

6 / 11Anand Kumar, ADG(L&O)

New Delhi: An undated photo of Police Inspector Subodh Kumar Singh. According to the officials, Kuma

7 / 11इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह (PTI Photo)

 तिरंगे में लिपटा इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का पार्थिव शरीर उनके घर एटा पहुंचा।

8 / 11तिरंगे में लिपटा इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का पार्थिव शरीर उनके घर एटा पहुंचा।

मृतक सुबोध कुमार सिंह- ओपी राजभर (PHOTO-ANI/PTI)

9 / 11मृतक सुबोध कुमार सिंह- ओपी राजभर (PHOTO-ANI/PTI)

मृतक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की बहन

10 / 11मृतक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की बहन

nspector Subodh Kumar Singh Family

11 / 11nspector Subodh Kumar Singh Family

PreviousNext

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बुलंदशहर (Bulandshahr) के महाव गांव में गोकशी (Cow slaughter) को लेकर सोमवार को भड़की हिंसा बाद जो चिंगारी भड़की है उसकी आग एक दिन बाद मंगलवार को भी शांत होने का नाम नहीं ले रही है। हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर की पत्नी रजनी ने सुबोध के आरोपी कातिल को उनके हवाले करने की राज्य सरकार से मांग की है। उधर, इंस्पेक्टर सुबोध कुमार के पार्थिव शरीर को अंतिम विदाई दे दी गई। उनके बेटे बेटे ने मुखाग्नि दी।

सुबोध की अंत्येष्टि से पहले अपनी मांगों को लेकर अड़े परिवार की जिद के सामने तेलंगाना में चुनाव प्रचार करने गए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने आश्वासन दिया है। योगी ने अलीगंज के विधायक सत्यपाल सिंह राठौड़ से बात की। उन्होंने शहीद स्मारक बनाने और इंटरकॉलेज की मांगें मान ली। उधर, दूसरी तरफ इस घटना के पर सियासत भी शुरू हो गई है। यूपी के मंत्री ने बयान दिया है कि ये VHP, आरएसएस और बजरंग दल की साजिश है। 

बुलंदशहर हिंसा : LIVE UPDATES -

 

 

- यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज रात साढ़े आठ बजे अधिकारियों की बैठक बुलाई, राज्य में कानून व्यवस्था पर होगी बातचीत 

 

 

-बुलंदशहर की घटना में शहीद इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के परिजनों की मदद के लिए एसएसपी डॉ अजयपाल शर्मा की पहल। गौतमबुद्धनगर पुलिस के करीब 23 सौ पुलिसकर्मी अपनी एक दिन की सैलरी (40 लाख रुपये) सुबोध सिंह के परिजनों को देंगे।

-बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार के पार्थिव शरीर की दी गई अंतिम विदाई।

-बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार का पार्थिव शरीर अंत्येष्टि स्थल पर पहुंचा, बड़ा बेटा देगा मुखाग्नि।  

-बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी रजनी ने राज्य सरकार से कहा है कि वह उनके पति के आरोपी कातिल को उन्हें सौपें। वे खुद उसे सजा देंगी। इसके साथ ही, सुबोध के परिवारवालों ने एसआईटी जांच की मांग की है।

बुलंदशहर हिंसा: सुमित के गोली लगने का VIDEO आया सामने, परिजन बोले- पुलिस फायरिंग में गई जान

-सीएम योगी से मिलने पर अड़े बुलंदशहर हिंसा में मारे गए सुबोध के भाई के रूख को देखते हुए तेलंगाना में चुनावी रैली करने गए मुख्यमंत्री ने अलीगंज के विधायक सत्यपाल राठौड़ के साथ बातचीत की। सीएम ने सुबोध के परिजनों की उन मागों को पूरा करने का आश्वासान दिया है, जिसमें एक शहीद स्मारक और इंटरकॉलेज की मांग की गई थी। 

-बुलंदशहर हिंसा के आरोपी जितेंद्र की मां रतन ने कहा, मैं घर पर नहीं थी। लेकिन गांव वालों ने बताया कि 70 पुलिसवाले आए थे। उनके साथ कोई लेडी ऑफिसर भी नहीं थी। वो लोग आए उन्होंने घर में तलाशी और मेरी बहू के साथ मारपीट भी की।

 - बजरंग दल के नेता योगेश राज को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है : आनंद कुमार

-इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह हमारे लिए शहीद हैॆं : आनंद कुमार

-जिस युवक की मौत हुई है उसके शरीर से भी बुलेट बरामद की गई है। आखिरी पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में बुलेट के बारे में पता लगाया जाएगा : आनंद कुमार

-मामले की एसआईटी जांच के आदेश दे दिए गए हैं। स्थानीय निवासी सुमित को किसने गोली मारी इसकी भी जांच की जा रही है : एडीजी आनंद कुमार

 

-बुलंदशहर हिंसा को लेकर एडीजी आनंद कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया, 6 टीमें छापे मार रही हैं। अब तक दो लोगों को सबूत के आधार पर गिरफ्तार किया है। 27 लोग नामजद हैं। 

-तिरंगे में लिपटा इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह का पार्थिव शरीर उनके घर एटा पहुंचा।

- बुलंदशहर में हिंसा, विश्व हिंदू परिषद(VHP), बजरंग दल और आरएसएस(RSS) की सोची समझी साजिश है। अब पुलिस बीजेपी के सदस्यों का नाम ले रही है। ये विरोध उसी दिन क्यों हुआ जब बुलंदशहर में मुस्लिमों का इ्ज्तेमा चल रहा था : उत्तर प्रदेश के मंत्री ओपी राजभर

-सुबोध कुमार की बहन ने कहा, मेरा भाई अख़लाक हत्या मामले की जांच कर रहे थे इसलिए उन्हें मारा गया। ये सब पुलिस की साजिश है। उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाना चाहिए, उनका स्मारक बनना चाहिए। हमें पैसा नहीं चाहिए।

-सयाना कोतवाल की हत्या के बाद सुबोध कुमार के शव का एटा आने का इंतजार किया जा रहा है। पुलिस लाइन में अधिकारी पहुंच गए हैं। गांव में सैकड़ों की संख्या में लोग अंतिम दर्शन के लिए पहुंच गए।

-अखबारों में जानकारी मिलने के बाद लोग घटनाक्रम पर चर्चा कर रहे हैं। आखिर उनके साथ के हमराह ऐसे हालात में क्यों भाग गए थे। जब वह अकेले रह गए थे तो पुलिस की टीम ने पीठ क्यों दिखा गई। जो घटनाक्रम हुआ उस में साथियों पूरा दोष माना जा रहा है।

- सुबोध कुमार की बहन ने मांग की है कि उनके भाई को शहीद का दर्जा दिया जाना चाहिए।

-पुलिस द्वारा दी गई श्रद्धांजलि को लेकर इंस्पेक्टर सुबोध के परिजन नाराज हैं। पुलिस लाइन में श्रद्धांजलि के दौरान अधिकारियों ने सुबोध कुमार सिंह के शव के ऊपर तिरंगा नहीं लगाया। इस बात को लेकर छोटे बेटे अभिषेक ने नाराजगी जताई है।

-न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, गौहत्‍या की अफवाह के बाद हिंसा भड़कने के आरोप में बजरंग दल के नेता योगेश राज समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 

-बुलंदशहर हिंसा में मारे गए सुबोध कुमार सिंह के चाचा ने आरोप लगाया कि वह गाड़ी में अकेले थे और उनका ड्राईवर सब बात जानता है। उन्होंने कहा, पुलिस मिली हुई है। उन्होंने कहा कि हमें 40 लाख रुपये की मदद नहीं लेंगे हम चाहते हैं कि सीएम योगी आदित्यनाथ खुद हमसे मिलने आएं। चाचा ने बताया कि गांव में कल किसी के घर में चूल्हा नहीं जला है।

- बुलंदशहर से सुबोध कुमार सिंह का शव एटा उनके पैतृक गांव पहुंचने वाला है। गांव में सलामी से लेकर अंतिम संस्कार तक की तैयारी कर ली गई। आसपास गांव की भीड़ जुटना शुरू हो गई है सुधीर के अंतिम दर्शन के लिए सांसद विधायक डीएम एसएसपी सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उनके गांव में पहुंच गए।

- मेरे पिता मुझे एक अच्छा नागरिक बनाना चाहते थे, जो धर्म के नाम पर कभी कोई लड़ाई-झगड़ा ना करे। आज हिंदू-मुसलमान के झगड़े में मेरे ही पिता की जान चली गई। कल किसके पिता की जान जाएगी ? : मृतक सुबोध कुमार सिंह का बेटा अभिषेक

 

 

- पुलिस ने 27 लोगों के खिलाफ एफआई आर दर्ज की है। साथ में 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। 

-बुलंदशहर हिंसा में शामिल दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसआईटी पूरे मामले की जांच कर रही है कि हिंसा क्यों भड़की थी और पुलिसकर्मी सुबोध कुमार सिंह को अकेला छोड़ कर क्यों भाग गए थे : मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार

मृतक इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की पत्नी, बेटे और परिजन शव गृह पहुंचे, पत्नी और परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।


बुलंदशहर हिंसा: पश्चिमी यूपी में माहौल बिगाड़ने की साजिश, खुफिया एजेंसियां और पुलिस का तंत्र फेल

अंतिम संस्कार से पहले बुलंदशहर के पुलिस ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

10 Poitns : जानें कैसे हुई इंस्पेक्टर सुबोध की हत्या, क्या है बुलंदशहर हिंसा का पूरा घटनाक्रम

बुलंदशहर हिंसा : भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध की पिस्टल छीनकर सिर में मारी थी गोली

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Live updates Bulandshahr Violence inspector Subodh Kumar Singh Funeral today who lost his life in mob lynching