DA Image
28 अक्तूबर, 2020|10:59|IST

अगली स्टोरी

मंगल ग्रंह पर संभव है मानव जीवन? 75 हजार वर्ग किलोमीटर में फैली नमक की झीलें दे रही पानी की मौजूदगी के संकेत

मंगल पर पानी की मौजूदगी की संभावनाओं को बल मिला है। यूरोप के शोधकर्ताओं ने मार्स एक्सप्रेस के आंकड़ों के हवाले से दावा किया है कि मंगल पर 75 हजार वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में नमक की झीलें मौजूद हैं। इससे इस बात की पुष्टि होती है कि अरबों साल पहले मंगल पर समुद्र और झीलें मौजूद रही होंगी और वहा अंटार्कटिक जैसा जीवन रहा हो सकता है।

नेचर आस्ट्रोनॉजी जर्नल में प्रकाशित शोध में यूरोपीय स्पेस एजेंसी मार्स आर्बिटर स्पेसक्राफ्ट यानी मार्स एक्सप्रेस के आंकड़ों को आधार बनाया गया है। इस स्पेसक्राफ्ट ने 2018 में मंगल पर एक झील होने का दावा किया था। तब वैज्ञानिकों ने अलग-अलग स्रोतों से प्राप्त 29 आकलनों के आधार पर इससे सहमति प्रकट की थी। इस नए शोध में कुल 2012-2019 के बीच किए गए कुल 134 आकलनों को आधार बनाकर यह नतीजा निकाला गया है कि मंगल के दक्षिणी ध्रुव पर 30 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल की एक साल्ट लेक है। इतना हीं नहीं, इसके दायरे में तीन छोटी साल्ट लेक भी हैं।

अंटार्कटिक जैसा रहा हो सकता है जीवन
रोम विश्वविद्यालय के ताराविज्ञानी एवं शोधकर्ता ऐलेन पेट्टनेलि ने कहा कि नमक की झीलों की पुष्टि इस बात का प्रमाण है कि मंगल पर कभी समुद्र और झीलें रही होंगी। यह तथ्य इस बात की ओर भी इशारा करता है कि वहां कभी अंटार्कटिक जैसा जीवन भी रहा हो सकता है। हालांकि, झीलों के मौजूदा स्वरूप से यह भी साफ है कि पानी में नमक की मात्रा बहुत ज्यादा रही होगी। इसे वापस पानी के स्वरूप में लाना आसान नहीं होगा।

मार्स एक्सप्रेस में लगे उपकरण से पुष्टि हुई
शोध के अनुसार नमक की झीलों के होने की पुष्टि मार्स एक्सप्रेस में लगे उपकरण मार्सिस से हुई थी। इस उपकरण से मंगल की सतह पर रेडियो तरंगें डाली गई थीं, जो टकराकर वापस लौटती हैं। उनके विश्लेषण से यह नतीजा निकाला जाता है। यह तकनीक भरोसेमंद है, क्योंकि धरती पर भी ग्लेशियरों वाले क्षेत्र में इसी के जरिए पानी, बर्फ और चट्टानों का आकलन किया जाता है। शोध के अनुसार मंगल पर करीब 75 हजार वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में नमक की झीलें मौजूद होने का अनुमान है। यह जर्मनी के पांचवें हिस्से के बराबर क्षेत्र है। माना यह जा रहा है कि कभी यह क्षेत्र नमक की अत्यधिक मात्रा वाला समुद्र रहा होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Life is possible on Mars planet Signs of presence of water giving salt lakes spread in 75 thousand square kilometres