DA Image
3 अगस्त, 2020|12:58|IST

अगली स्टोरी

LAC पर बफर जोन में भारत के साथ चीनी सेना भी करेगी गश्त, सैन्य कमांडर लेवल की मीटिंग में हो सकता है फैसला

lac tension ladakh indian army vs chinese army   photo by xinhua afp

पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले स्थानों पर ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए दोनों देशों की सेनाएं संयुक्त पेट्रोलिंग के प्रस्ताव पर सहमत हो सकती हैं। संभावना है कि सैन्य कमांडर स्तर पर अगली बैठकों में इस विषय पर चर्चा हो सकती है, जबकि चीनी सेना के पीछे हटने के बाद भारतीय सेना पेट्रोलिंग शुरू करने की तैयारी में है, लेकिन चीन चाहता है कि वह भी इन स्थानों पर अपनी पेट्रोलिंग करेगा।

गलवानी घाटी, हॉट स्प्रिंगस, गोगरा, डेप्सांग और फिंगर एरिया ये ऐसे स्थान हैं जहां भारतीय एवं चीनी सेनाओं के बीच टकराव है। इनमें से कई स्थानों पर एलएसी (वास्तविक नियंत्रण रेखा) को लेकर भारत और चीन के दावे अलग-अलग हैं। फिंगर एरिया में भारत की पेट्रोलिंग फिंगर आठ तक होती रही है और वहां तक उसका दावा है, लेकिन चीन अपना दावा फिंगर-4 तक मानता है।

राजनाथ और अमेरिकी रक्षा मंत्री की टेलीफोन पर बातचीत, चीन से लद्दाख विवाद का मुद्दा उठा

सैन्य कमांडरों में इस मुद्दे पर हुई पिछली बैठकों में इस बात पर सहमति बनी हुई है कि विवाद वाले स्थानों पर एक बफर जोन बनाया जाए। इस जोन में किसी भी देश की सेना नहीं रहेगी और न ही वहां कोई निर्माण होगा। टकराव वाले हर स्थान पर बफर जोन अलग-अलग हो सकता है। इसकी रूपरेखा पिछली बैठकों में हुई थी जिसके अनुसार चीनी सेनाएं पीछे हट रही हैं और उसी अनुरूप भारतीय सेना भी पीछे हटेगी।

बैठकों में चीन की तरफ से यह बात भी बात आई है कि बफर जोन पर दोनों देशों की सेनाओं की पेट्रोलिंग की अनुमति होनी चाहिए। हालांकि भारत इसके लिए तैयार नहीं है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि आगामी बैठक में इस मुद्दे पर फिर चर्चा हो सकती है।

आखिरकार झुक गया चीन, पू्र्वी लद्दाख से सैनिकों को पूरी तरह से पीछे हटाने पर हुआ सहमत

दरअसल, फिंगर एरिया क्षेत्र में दोनों देशों की पेट्रोलिंग होती रही है और कई बार इसके चलते टकराव भी हुआ है, लेकिन विवाद वाले बाकी क्षेत्रों में चीन की नियमित पेट्रोलिंग नहीं है, जबकि भारतीय सेना की पेट्रोलिंग लंबे समय से होती रही है। ऐसे में चीन के प्रस्ताव पर सहमति बनती है या नहीं, कहना मुश्किल है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:LAC Ladakh Tension Indian Army Chinese PLA Patrolling Buffer zone