ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशकुमारी शैलजा और अभिषेक सिंघवी को हाईकमान से 'इनाम', CWC में एंट्री

कुमारी शैलजा और अभिषेक सिंघवी को हाईकमान से 'इनाम', CWC में एंट्री

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता कुमारी शैलजा और पार्टी के प्रमुख कानूनी विशेषज्ञ अभिषेक सिंघवी को ताजा फेरबदल में पार्टी की शीर्ष कार्यकारी निकाय कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) में शामिल किया गया है।

कुमारी शैलजा और अभिषेक सिंघवी को हाईकमान से 'इनाम', CWC में एंट्री
Gaurav Kalaसौभद्र चटर्जी, हिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीThu, 23 Jun 2022 02:39 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता कुमारी शैलजा और पार्टी के प्रमुख कानूनी विशेषज्ञ अभिषेक सिंघवी को ताजा फेरबदल में पार्टी की शीर्ष कार्यकारी निकाय कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) में शामिल किया गया है। शैलजा को हरियाणा से राज्यसभा सीट से चूकने के बाद सीडब्ल्यूसी में शामिल किया गया है, जबकि शीर्ष समिति में सिंघवी की एंट्री नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग केस में कांग्रेस की भविष्य में होने वाली कानूनी लड़ाई के मद्देनजर की गई है। इसके अलावा आंध्र प्रदेश के पूर्व सांसद टी सुब्बारामी रेड्डी को भी सीडब्ल्यूसी का स्थायी सदस्य बनाया गया है और यूपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है।

अभिषेक सिंघवी को कांग्रेस कार्यसमिति में एंट्री अन्य प्रमुख कानूनी विशेषज्ञ कपिल सिब्बल के अलगाव के बाद हुआ है, जिन्होंने समाजवादी पार्टी की मदद से एक स्वतंत्र सदस्य के रूप में राज्यसभा में लौटने के लिए पार्टी छोड़ दी थी। सिंघवी की सीडब्ल्यूसी में एंट्री इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इस पार्टी के दो शीर्ष नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी की पूछताछ का सामना कर रहे हैं। 

कुमार शैलजा की एंट्री से हरियाणा चुनाव पर फोकस
पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, "सीडब्ल्यूसी में शैलजा को शामिल करना हरियाणा में सत्ता समीकरणों को संतुलित करने का एक प्रयास है, मुख्य रूप से भूपिंदर हुड्डा और शैलजा के बीच सामंजस्य स्थापित करना। हुड्डा हरियाणा में निशाना साध रहे हैं। उनके बेटे दीपेंद्र हुड्डा राज्यसभा सांसद हैं। इसलिए, शैलजा को सीडब्ल्यूसी के सदस्य के रूप में समायोजित करना आवश्यक था।”

सुब्बारामी रेड्डी और अजय कुमार लल्लू को भी पद
कांग्रेस ने आंध्र प्रदेश के पूर्व सांसद टी सुब्बारामी रेड्डी को भी सीडब्ल्यूसी का स्थायी सदस्य घोषित किया है, जबकि उत्तर प्रदेश के पूर्व पार्टी प्रमुख अजय कुमार लल्लू को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के तीन अन्य नेताओं राजीव शुक्ला, प्रमोद तिवारी और इमरान प्रतापगढ़ी को नामांकित किए जाने के बावजूद अजय कुमार लल्लू राज्यसभा में जाने से चूक गए थे।

epaper