Kumaraswamy government collapse in Karnataka BS Yeddyurappa may claim for new government - कर्नाटक में गिरी कुमारस्वामी सरकार, येदियुरप्पा कर सकते हैं नई सरकार का दावा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर्नाटक में गिरी कुमारस्वामी सरकार, येदियुरप्पा कर सकते हैं नई सरकार का दावा

bs yeddyurappa and hd kumarswamy  ani pic

कर्नाटक में आखिरकार चले लंबे सियासी ड्रामे का मंगलवार को अंत हो गया। 14 महीने पुरानी कुमारस्वामी सरकार विधानसभा में विश्वासमत के दौरान अपना जरूरी बहुमत नहीं साबित कर पाई। 224 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा में से कुमारस्वामी सरकार के पक्ष में सिर्फ 99 वोट पड़े जबकि विपक्ष में 105 वोट पड़े।

कुमारस्वामी सरकार गिरने के बाद अब बीएस येदियुरप्पा की तरफ से नई सरकार बनाने के लिए दावा करना तय माना जा रहा है।

कुमारस्वामी बोले- बड़ी मुश्किल से चलाई सरकार

इधर, इससे पहले कर्नाटक में विश्वासमत के दौरान हो रही चर्चा में कुमारस्वामी ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि उन्होंने सरकार गिरने की लगातार कयासों के बीच अपनी सरकार चलाई।

एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि कहा कि उनके बारे में नकारात्मक रिपोर्ट्स से वे काफी आहत हुए और वे खुशी-खुशी पद छोड़ देते। सरकार के बारे में बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने एक ऐसी सरकार चलाई जिस पर लगातार गिरने का बादल मंडरा रहा था।

सदन में बहुमत साबित करने के दौरान बहस में बोलते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि उन्होंने सरकार बचाने के लिए काफी जद्दोजहद की क्योंकि सदन के नए नेताओँ ने उनसे इसकी अपील की थी।

ये भी पढ़ें: कुमारस्वामी की गिरी सरकार, विश्वासमत के पक्ष में पड़े सिर्फ 99 वोट

कुमारस्वामी ने खुद को बताया एक्सीडेंटल सीएम

कर्नाटक विधानसौदा में बहुमत को लेकर चल रही बहस के दौरान मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने खुद को राज्य का एक्सीडेंटल सीएम बताया। काफी मुश्किल घड़ी में सरकार बचाने की अपनी कड़ी मेहनत को बताते हुए कुमारस्वामी ने कहा कि उस वक्त हमने सरकार चलाई जब यह लगातार कयासबाजी हो रही थी कि सरकार गिर रही है।

उन्होंने कहा- पिछले करीब चौदह महीने से हमने उस स्थिति में सरकार चलाई है जब लगातार सरकार गिरने की कयासबाजी हो रही थी। मैं अथॉरिटीज को धन्यवाद करना चाहता हूं जिन्होंने निश्चित समय-सीमा के साथ काम किया, जो बीजेपी ने हमें दिया था। उन्होंने दिन-रात काम किया और अगर हमने इन महीनों के दौरान कुछ किया तो वे सब उनकी बदौलत किया है।

ये भी पढ़ें: "अयोग्य करार दिए जांएगे बागी विधायक और उनकी राजनीतिक समाधि बनेगी"

सिद्दारमैया बोले- विधायकों की 'थोक के भाव खरीद-फरोख्त में शामिल है भाजपा

कांग्रेस नेता सिद्धरमैया ने मंगलवार को भाजपा पर कर्नाटक की कुमारस्वामी सरकार को गिराने और रिश्वत तथा विधायकों को 'थोक के भाव खरीद कर पिछले दरवाज़े से सत्ता में आने का प्रयास करने का आरोप लगाया।

सिद्धरमैया ने विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए आरोप लगाया कि ''विधायकों को प्रलोभन देने के लिए 20,25 और 30 करोड़ रुपये की पेशकश की गई तथा पूछा , '' ये पैसा कहां से आया?

कांग्रेस विधायक दल के नेता और कांग्रेस-जदएस गठबंधन समन्वय समिति के अध्यक्ष ने कहा, '' यह राज्य के राजनीतिक इतिहास पर काला धब्बा है। सिद्धरमैया ने कहा, '' सब... 99 फीसदी लोग जानते हैं कि इसके (सरकार गिराने के) पीछे भाजपा है। यह खुल कर कहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, '' आपको लगता है कि आप लोकतंत्र की हत्या करके सत्ता में आ जाएंगे तो यह आपको उल्टा पड़ेगा। अगर येदियुरप्पा सरकार बना भी लें तो भी आप छह महीने या एक साल के लिए ही सत्ता में होंगे।

उन्होंने आरोप लगाया कि 15 विधायकों का इस्तीफा कुछ नहीं बल्कि 'थोक के भाव खरीद फरोख्त है। सिद्धरमैया ने कहा, '' लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित कोई भी सरकार इस तरह के थोक के भाव खरीद-फरोख्त से बची नहीं रह सकती है।

उन्होंने कहा कि भाजपा को 105 विधायकों के साथ मजबूत विपक्ष के तौर पर काम करना चाहिए था लेकिन उन्होंने गलत तरीके अपना कर पिछले दरवाजे से सरकार बनाने की कोशिश की।

सिद्धरमैया ने कहा, '' यह निदंनीय है। दल बदल एक बीमारी है और इसे नियंत्रित करने की जरूरत है। उन्होंने भाजपा से कहा, ''कोई भी आम आदमी निष्कर्ष निकाल सकता है कि इस दल-बदल के पीछे भाजपा है। राज्य के लोग आपको माफ नहीं करेंगे। अगले चुनाव में आपको यह पता लग जाएगा।

ये भी पढ़ें: कुमारस्वामी का सोशल मीडिया पर फूटा गुस्सा, कहा- समाज को कर रहा बर्बाद

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kumaraswamy government collapse in Karnataka BS Yeddyurappa may claim for new government