DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी: तंत्र-मंत्र के लिए चार साल के बच्चे की दे दी बलि

tantra-mantra  symbolic image

बरेली के पास फरीदपुर के गांव पिपरथरा में रविवार रात को तंत्र-मंत्र के लिए चार साल के बच्चे की बलि दे दी गई। बच्चे का शव हाथ-पांव बंधा हुआ बाग में पड़ा मिला है। उसका एक कान कटा हुआ पाया गया और एक पेड़ पर खून से तिलक लगाकर पूजा किए जाने की बात पता चल रही है। इस वारदात से गांव में आक्रोश है। एसपी देहात ने फील्ड यूनिट के साथ घटनास्थल का जायजा लिया है। 

पिपरथरा गांव के बाहर धार्मिक स्थल है। पुलिस के मुताबिक रविवार शाम गांव के कृपाल का चार वर्षीय बेटा राजकुमार उर्फ संजू बच्चों के साथ धार्मिक स्थल पर प्रसाद लेने के लिए गया हुआ था। गांव के साथी बच्चे अपने घरों को वापस लौट आए लेकिन राजकुमार घर वापस नहीं लौटा। परिवार के लोगों पूरे गांव में मासूम को तलाश किया लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। रात में ही कृपाल ने फरीदपुर थाने में बेटे की गुमशुदगी दर्ज कराई। सोमवार सुबह पुलिस टीम पिपरथरा गांव पहुंची। पुलिस टीम ने खेतों में तलाश शुरू की।

गांव के सैकड़ों लोग भी पुलिस टीम के साथ खोजते हुए धार्मिक स्थल के पास बाग में पहुंचे। बाग की झाड़ियों में मासूम का शव पड़ा देखकर लोग चीख-पुकार करने लगे। मासूम के हाथ और पैर रस्सी से बंधे हुए थे। गले में कपड़े का फंदा लगा हुआ था। उसका एक कान कटा हुआ था। पुलिस ने बच्चे का शव कब्जे में लेकर अफसरों को सूचना दी। इसके बाद फिंगरप्रिंट टीम के साथ सीओ रामानंद राय, कोतवाल अशोक कुमार मौके पर पहुंच गए। परिजनों ने किसी से रंजिश होने से इंकार किया है। 

तांत्रिकों को बुलाकर लोग कराते हैं तंत्र साधना
ग्रामीणों ने बताया कि गांव के कई लोग तांत्रिकों को बुलाकर तंत्र साधना करा रहे हैं। तांत्रिक ने बच्चे की हत्या करके शव बाग में फेक दिया है। पुलिस ने ग्रामीणों के खुलासे पर जांच शुरू की है। राजकुमार कृपाल का इकलौता बेटा था, उसके तीन बेटियां हैं। बच्चे की निर्मम हत्या के बाद घर में कोहराम मचा हुआ है। 

9 साल पहले भी गांव से गायब हुई थी 4 साल की बच्ची
ग्रामीणों ने बताया कि गांव में अरसे से तांत्रिक तंत्र विद्या करने में जुटे हैं। बाहर के कई तांत्रिक गांव में आकर तंत्र विद्या करते हैं। नौ साल पहले गांव के शराफत की बच्ची घर के बाहर खड़ी हुई थी। अचानक लापता हो गई। शराफत ने थाने में बच्ची की गुमशुदगी दर्ज कराई।  नौ साल बीतने के बाद भी  बच्ची का पता नहीं लगा है। उस समय भी बच्ची के गायब होने से तांत्रिकों पर बलि देने की आशंका जताई जा रही थी। लेकिन पुलिस ने इस मामले की जांच नहीं की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Killed 4 year old boy for Tantra-Mantra in Uttar Pradesh