DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशसुशासन के मामले में लगातार तीसरे साल केरल टॉप पर, बिहार नीचे- रिपोर्ट

सुशासन के मामले में लगातार तीसरे साल केरल टॉप पर, बिहार नीचे- रिपोर्ट

एजेंसी,बेंगलुरुSurender
Sun, 22 Jul 2018 08:42 PM
सुशासन के मामले में लगातार तीसरे साल केरल टॉप पर, बिहार नीचे- रिपोर्ट

राज्यों की शासन-व्यवस्था के मामले में केरल देश में अव्वल है, जबकि कनार्टक चौथे पायदान पर है। थिंक टैंक पब्लिक अफेयर सेंटर (पीएसी) द्वारा जारी सार्वजनिक मामलों के सूचकांक-2018 (पीएआई) में यह बात कही गई है। पीएसी ने शनिवार को अपनी रिपोर्ट जारी करते हुए कहा, “वर्ष 2018 के पब्लिक अफेयर्स इंडेक्स (पीएआई) में केरल लगातार तीसरे साल शीर्ष पर है।”

अलवर लिंचिंग: रहबर खान परिवार में अकेला शख्स था कमाने वाला, संकट में घरवाले

यह सूचकांक वर्ष 2016 से राज्यों की शासन व्यवस्था पर सालाना आधार पर जारी हो रहा है। इस रिपोर्ट में राज्यों के सामाजिक और आर्थिक विकास के आंकड़ों के आधार पर शासन-व्यवस्था के प्रदर्शन की रैंकिंग की जाती है। इस सूची में केरल के बाद दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवें स्थान पर क्रमश: तमिलनाडु, तेलंगाना, कनार्टक और गुजरात हैं।

जलवायु परिवर्तन ने रोकी मानसून की चाल, देश का बड़ा हिस्सा सूखे की चपेट में

पीएआई में मध्यप्रदेश, झारखंड और बिहार निचले स्तर पर हैं, जो इन राज्यों में अधिक सामाजिक व आर्थिक असमानता का सूचक है। पीएसी के चेयरमैन के. कस्तूरीरंगन ने कहा, “युवाओं की बढ़ती आबादी वाले देश के रूप में भारत को अपनी विकासपरक चुनौतियों का आकलन करने और उनका समाधान करने की जरूरत है।”

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें