ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशकेसीआर रह सकते हैं दूर, ममता और स्टालिन का मिलेगा साथ, जानें जी20 पर सर्वदलीय बैठक में कौन-कौन होगा शामिल

केसीआर रह सकते हैं दूर, ममता और स्टालिन का मिलेगा साथ, जानें जी20 पर सर्वदलीय बैठक में कौन-कौन होगा शामिल

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी की ओर से करीब 40 दलों के अध्यक्षों को बैठक में आमंत्रित किया गया है। राष्ट्रपति भवन में होने वाली इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद रहेंगे।

केसीआर रह सकते हैं दूर, ममता और स्टालिन का मिलेगा साथ, जानें जी20 पर सर्वदलीय बैठक में कौन-कौन होगा शामिल
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 04 Dec 2022 10:46 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारत ने एक दिसंबर को आधिकारिक रूप से जी20 की अध्यक्षता ग्रहण की है। जिसके बाद केंद्र सरकार ने जी20 शिखर सम्मेलन के लिए सुझाव मांगने, रणनीतियों पर चर्चा करने और अंतिम रूप देने के लिए सोमवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है। सर्वदलीय बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी समेत कई और मुख्य विपक्षी पार्टियों के नेता शामिल होंगे। इस बैठक में तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के शामिल होने की संभावना नहीं है।

सरकारी सूत्रों के अनुसार, भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, डीएमके अध्यक्ष और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन, तेलुगु देशम पार्टी के अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू और बीजू जनता दल अध्यक्ष और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक उन लोगों में शामिल हैं जो सोमवार शाम राष्ट्रपति भवन में बैठक में शामिल होंगे। तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) और भाजपा के बीच जारी राजनीतिक जंग के बीच तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के बैठक में शामिल होने की संभावना नहीं है।

सभी पार्टी प्रमुखों से व्यक्तिगत बात की

केंद्रीय संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने एएनआई को बताया, 'मैंने सभी नेताओं और पार्टी अध्यक्षों से व्यक्तिगत रूप से बात की है। हालांकि, अभी तक केसीआर सहित कुछ और नेताओं से हमें कोई पुष्टि नहीं मिली है। उन्होंने ने कहा, यह एक ऐसी बैठक है जिसमें पार्टी अध्यक्षों को ही आमंत्रित किया गया था और इसलिए हमने उनसे इसमें हिस्सा लेने का अनुरोध किया है। अध्यक्षों की ओर से कोई प्रतिनिधि शामिल नहीं होगा।

टीआरएस की ओर से अभी भी चुप्पी

टीआरएस के के केशव राव ने एएनआई से कहा, 'हमारे नेता के सोमवार को बैठक में शामिल होने के बारे में हमें कोई जानकारी नहीं है। वहीं, वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने सोमवार की बैठक में अपनी अनुपलब्धता के बारे में पहले ही केंद्र को अवगत करा दिया है। वाईएसआर संसदीय दल के नेता विजयसाई रेड्डी ने एएनआई को बताया, भारत की राष्ट्रपति आंध्र प्रदेश का दौरा कर रहे हैं और इसलिए हम  बैठक में शामिल नहीं हो पाएंगे।'

आरजेडी भी नहीं होगी शामिल, नीतीश का पता नहीं

इसके अलावा, राष्ट्रीय जनता दल (RJD) इस बैठक में शामिल नहीं होगा क्योंकि पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद यादव का इस समय सिंगापुर में इलाज चल रहा है। अभी तक जनता दल (यूनाइटेड) की ओर से इस बात की पुष्टि नहीं की है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बैठक में शामिल होंगे या नहीं। इस बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर सकते हैं। इसके अलावा, विदेश मंत्री एस जयशंकर, राज्यसभा में सदन के नेता और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के सरकार की ओर से उपस्थित होने की संभावना है।