DA Image
1 अप्रैल, 2020|11:42|IST

अगली स्टोरी

काशी महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव के लिए एक सीट रिजर्व, तीन ज्योतिर्लिंगों की यात्रा कराएगी यह ट्रेन

kashi mahakal express lord shiva reserve seat   ani twitter 16 feb  2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (16 फरवरी) को वाराणसी से काशी महाकाल एक्सप्रेस को रवाना किया। इसमें एक सीट भगवान शिव के लिए भी आरक्षित है। यह एक्सप्रेस दो राज्यों के तीन ज्योतिर्लिंगों की यात्रा करेगा।

ट्रेन में भगवान शिव के लिए सीट आरक्षित करने ने नए विचार के बाद रेलवे प्रशासन इस पर विचार कर रहा है कि ट्रेन में स्थायी तौर पर 'भोले बाबा' के लिए एक सीट आरक्षित की जाए। यह ट्रेन इंदौर के निकट ओंकारेश्वर, उज्जैन में महाकालेश्वर और वाराणसी में काशी विश्वनाथ को जोड़ेगी।

पीएम मोदी ने पड़ाव से हरी झंडी दिखाई और कैंट से चल पड़ी काशी महाकाल एक्सप्रेस

उत्तरी रेलवे के लिए प्रवक्ता दीपक कुमार ने 'पीटीआई-भाषा को बताया कि कोच संख्या बी5 की सीट संख्या 64 भगवान के लिए खाली की गई है। रेलवे ने आईआरसीटीसी संचालित तीसरी सेवा शुरू की है। यह ट्रेन उत्तर प्रदेश के वाराणसी से मध्य प्रदेश के इंदौर तक जाएगी।

कुमार ने कहा, ''ऐसा पहली बार हुआ है जब एक सीट भगवान शिव के लिए आरक्षित और खाली रखी गई है।" उन्होंने कहा, ''सीट पर एक मंदिर भी बनाया गया है ताकि लोग इस बात से अवगत हों कि यह सीट मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल के लिए है।” कुमार ने कहा कि ऐसा स्थायी तौर पर करने के लिए विचार किया जा रहा है।

वाराणसी में रेलकर्मियों ने काशी-महाकाल एक्सप्रेस का किया विरोध, निजीकरण से आक्रोश

वाराणसी से इंदौर के बीच सप्ताह में तीन बार चलने वाली इस ट्रेन में भक्ति भाव वाली हल्की ध्वनी से संगीत बजेगा और प्रत्येक कोच में दो निजी गार्ड होंगे और यात्रियों को शाकाहारी खाना परोसा जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kashi Mahakal Express Seat number 64 coach B5 reserve For Lord Shiva