भारत की तरफ से करतारपुर कॉरिडोर तैयार, आठ नवंबर को जाएगा पहला जत्था - Kartarpur Corridor 8 November Ko Jayega Pahla jatha DA Image
23 नवंबर, 2019|6:44|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत की तरफ से करतारपुर कॉरिडोर तैयार, आठ नवंबर को जाएगा पहला जत्था

kartarpur

गुरुनानक देव के 550वें प्रकाश वर्ष के खास मौके पर पाक स्थित करतारपुर गुरुद्वारे के लिए भारत की तरफ से कॉरिडोर पूरी तरह तैयार है। यात्री टर्मिनल भवन का काम अंतिम चरण में है और उसे 31 अक्तूबर तक पूरा कर लिया जाएगा। आठ नवंबर को इस रास्ते से ही भारत से सिख श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना होगा।

इसके लिए 20 अक्तूबर से ऑनलाइन पंजीकरण शुरू होगा। हालांकि पकिस्तान की तरफ तैयारियां बेहद धीमी है, जिससे श्रद्धालुओं को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

लैंड पोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने रिकॉर्ड समय में इस कॉरिडोर और उससे जुड़ी अंतरराष्ट्रीय सुविधाओं और सुरक्षा भवनों के निर्माण कार्य को लगभग पूरा कर लिया है। साथ ही सीमा सुरक्षा बल ने भी अपनी तरफ से सुरक्षा की सारी तैयारियां और दोनों देशों के बीच कॉरिडोर के रास्तों की वैकल्पिक व्यवस्था भी कर ली है। सीमा पर जीरो लाइन तक भारत की तरफ से पुल का निर्माण भी पूरा हो गया है, लेकिन पाकिस्तान पुल को लेकर गंभीर नहीं है।

लैंड पोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के चेयरमैन गोविंद मोहन ने कहा कि भारतीय सीमा में पांच हजार सिख श्रद्धालुओं की क्षमता वाला पैसेंजर टर्मिनल बिल्डिंग, सुरक्षा व इमिग्रेशन भवन, पुल के साथ बाजू से वैकल्पिक सड़क का काम अंतिम चरण में है जो 31 अक्तूबर तक पूरा  हो जाएगा। 

रिकॉर्ड समय में हुआ पूरा
गोविंद मोहन ने बताया कि यह काम रिकॉर्ड समय में पूरा हुआ है। 47 दिन के भीतर आज यह परियोजना अंतिम चरण में है। इस परियोजना का काम इस साल 4 जून को शुरू हुआ था और पहली ईंट 22 जून को रखी गई थी। इसको 6 माह के भीतर तीन दिसंबर तक पूरा करना था, लेकिन यह 31 अक्तूबर को ही पूरा हो जाएगा। इसके लिए 50 एकड़ जमीन ली गई थी। पहले चरण में 20 एकड़ जमीन का ही उपयोग किया गया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kartarpur Corridor 8 November Ko Jayega Pahla jatha