ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशकांग्रेस नेता ने सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना की तुलना भगवान कृष्ण से की, भड़क गई भाजपा

कांग्रेस नेता ने सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना की तुलना भगवान कृष्ण से की, भड़क गई भाजपा

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा,

कांग्रेस नेता ने सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना की तुलना भगवान कृष्ण से की, भड़क गई भाजपा
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,बेंगलुरु।Fri, 03 May 2024 06:57 AM
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक के एक मंत्री ने सेक्स स्कैंडल मामले में आरोपी जनता दल (सेक्युलर) के सांसद प्रज्वल रेवन्ना की तुलना भगवान कृष्ण से करके विवाद खड़ा कर दिया है। एक वायरल वीडियो मं सिद्धारमैया सरकार में उत्पाद शुल्क मंत्री रामप्पा तिम्मापुर रेवन्ना के बारे में बोलते हुए और हिंदू देवता के साथ उनकी तुलना करते हुए दिखाई दे रहे हैं। उनके इस बयान के बाद हंगामा खड़ा हो गया है।

रामप्पा तिम्मापुर ने कहा, "जैसा कि एमबी पाटिल ने कहा, यह पेनड्राइव मुद्दा है। देश में इससे बुरा कुछ भी नहीं हुआ है। यह गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बना सकता है। भगवान कृष्ण भक्ति के साथ कई महिलाओं के साथ रहते थे। मुझे लगता है कि वह उस रिकॉर्ड को तोड़ना चाहते है।'' मंत्री ने विजयपुरा में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कन्नड़ में बोलते हुए दिख रहे हैं।

भाजपा ने तिम्मापुर के इस्तीफे की मांग करते हुए तुरंत कांग्रेस पर हमला बोल दिया। बीजेपी नेता और कर्नाटक के पूर्व मंत्री सीटी रवि ने कहा, "कर्नाटक सरकार में कांग्रेस नेता ने भगवान कृष्ण का अपमान किया है। उन्हें तुरंत कैबिनेट और पार्टी से हटाया जाना चाहिए अन्यथा हम उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे।" इसके जवाब में कांग्रेस ने खुद को तिम्मापुर की टिप्पणी से अलग कर लिया।

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा, "मैं इस बयान की निंदा करती हूं। मैं खुद को इस बयान से अलग करती हूं। यह पार्टी का आधिकारिक रुख नहीं है। रेवन्ना एक राक्षस हैं। यह पार्टी का रुख नहीं है।"

वीडियो हुआ था वायरल
गौरतलब है कि प्रज्वल पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस संरक्षक एचडी देवेगौड़ा के पोते हैं। वह विधायक और पूर्व मंत्री एचडी रेवन्ना के बेटे हैं। प्रज्वल से जुड़े कुछ अश्लील वीडियो क्लिप हाल के दिनों में वायरल हुए हैं। वह हसन लोकसभा क्षेत्र में एनडीए के उम्मीदवार थे, जहां 26 अप्रैल को मतदान हुआ था। इंटरनेट पर कथित वीडियो सामने आने के बाद प्रज्वल रेवन्ना ने कथित तौर पर भारत छोड़ दिया। वह जर्मनी के फ्रैंकफर्ट शहर में हैं। कांग्रेस के नेतृत्व वाली कर्नाटक सरकार ने गंभीर आरोपों की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है।