DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गौरी लंकेश हत्याकांड : IGP के नेतृत्व में 19 अफसरों की SIT करेगी जांच

लंकेश गौरी

बेंगलुरु में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के मामले में जांच के लिए कर्नाटक सरकार ने आईजीपी(इं​टेलीजेंस), बीके​ सिंह के नेतृत्व में 19 अफसरों की टीम गठित की है। कर्नाटक के सीएम सिद्धरमैया ने गौरी की हत्या की जांच एसआईटी से कराने का आदेश दिया था। गौरतलब है कि मंगलवार को गौरी लंकेश के अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इससे पहले लंकेश का अंतिम संस्कार बुधवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ किया गया। गौरी का अंतिम संस्कार बेंगलुरु शहर के चामराज पेट कब्रिस्तान में हुआ।

बेंगलुरु: वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की घर में घुसकर गोली मारकर हत्या

कन्नड़ पत्रिका 'लंकेश पत्रिके' की संपादक रहीं गौरी को इस दौरान बंदूक से सलामी दी गई। गौरी के भाई इंद्रजीत लंकेश ने बताया कि अंतिम संस्कार में किसी तरह की धार्मिक परंपराओं का पालन नहीं किया गया, क्योंकि वह रैशनलिस्ट थीं और हम उनकी विचारधारा के खिलाफ नहीं जाना चाहते थे। उन्होंने बताया कि गौरी की इच्छानुसार उनकी आंखें दान कर दी गई हैं।

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर रोष जताया,हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली और प्रदेश के अन्य नेताओं ने चामराज पेट पहुंच कर गौरी को श्रद्धांजलि अर्पित की। कन्नड़ फिल्म जगत के सदस्यों और ऐक्टिविस्ट्स के अलावा आम लोग भी गौरी को श्रद्धांजलि देने के लिए बड़ी संख्या में पहुंचे। अंतिम संस्कार के दौरान गौरी के परिवार के सदस्यों और दोस्तों की आंखें नम थीं। राजधानी दिल्ली में गौरी की जघन्य हत्या से आक्रोशित सैकड़ों पत्रकारों ने स्थानीय प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में विरोध प्रदर्शन किया। पत्रकारों ने गौरी के लिए इंसाफ की मांग की और असहमति की आवाजों को 'दबाने' की कोशिश कर रहीं 'ताकतों' से डटकर मुकाबला करने का आह्वान किया।

गौरी लंकेश हत्याः SIT करेगी पत्रकार की हत्या की जांच, कर्नाटक सरकार का फैसला

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Karnataka government Form Team comprising 19 officers under IGP Intelligence BK Singh in Gauri Lankesh Murder Probe