ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशहोटल ने चेताया तो हरकत में आई कर्नाटक सरकार, चुकाएगी PM मोदी का बिल

होटल ने चेताया तो हरकत में आई कर्नाटक सरकार, चुकाएगी PM मोदी का बिल

PM Narendra Modi News: मंत्री के कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार राज्य सरकार की परंपरा है कि जब प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति जैसे गणमान्य व्यक्ति आते हैं तो उनकी मेजबानी की जाती है।

होटल ने चेताया तो हरकत में आई कर्नाटक सरकार, चुकाएगी PM मोदी का बिल
rahul gandhi and arvind kejriwal got support from pakistan pm modi said matter of investigation
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,बेंगलुरुTue, 28 May 2024 06:08 AM
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक के वन मंत्री ईश्वर खंड्रे ने हाल ही में एक घोषणा में खुलासा किया कि राज्य सरकार पिछले साल अप्रैल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मैसूर यात्रा के दौरान किए गए आतिथ्य खर्चों के भुगतान की जिम्मेदारीं लेगी। यह दौरा प्रोजेक्ट टाइगर के 50 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में था और इसका बिल आश्चर्यजनक रूप से 80 रुपये लाख था। 

मंत्री के कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार राज्य सरकार की परंपरा है कि जब प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति जैसे गणमान्य व्यक्ति आते हैं तो उनकी मेजबानी की जाती है। हालांकि पिछले साल अप्रैल में कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के कारण आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से राज्य सरकार प्रोजेक्ट टाइगर कार्यक्रम में शामिल नहीं हुई थी। 

खंड्रे ने मीडिया को संबोधित करते हुए इस बात पर प्रकाश डाला कि मोदी की यात्रा चुनाव के समय के साथ हुई थी। इस प्रकार यह पूरी तरह से केंद्र सरकार की पहल बन गई। प्रारंभ में बजट तीन करोड़ रुपये था, वास्तविक व्यय बढ़कर 6.33 करोड़ रुपये हो गया। नतीजतन शेष 3.3 करोड़ रुपये जिसे राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण द्वारा दिए जाने की उम्मीद है। 

उन्होंने कहा 'राज्य वन विभाग प्राधिकरण के पास पहुंचा जिसने निर्देश दिया कि 80 लाख रुपये के होटल बिल की प्रतिपूर्ति राज्य सरकार द्वारा की जानी चाहिए। खंड्रे ने कहा 'हमने किसी भी संभावित मुद्दे का समाधान करते हुए इस अनुरोध का सम्मान करने का फैसला किया है।' खंड्रे ने बकाया राशि वसूलने के लिए कानूनी कार्रवाई करने के होटल के इरादे का संकेत देने वाली रिपोर्टों के जवाब में शनिवार को एक सौहार्दपूर्ण समाधान खोजने का आश्वासन दिया था।

खास बात है कि पीएम मोदी बीते साल अप्रैल में मैसूर में होटल रेडिसन में ठहरे थे। कहा जा रहा है कि होटल ने 1 जून तक बकाया भुगतान नहीं होने पर कनूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। होटल ने बकाया राशि के साथ भुगतान में देरी के चलते सरकार से 12 लाख 9 हजार रुपये का ब्याज भी चुकाने की मांग की है।