अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लंकेश हत्याकांड:गौरी के हत्यारों का सुराग देने वालों को 10 लाख का इनाम

Gauri Lankesh

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की मंगलवार शाम को हुई हत्या के तीन दिन बाद भी जांच एजेंसी हत्यारे का सुराग नहीं लगा पाई है। इसके मद्देनजर सरकार ने मामले में लोगों की मदद लेने का फैसला लिया है और सुराग देने वाले को 10 लाख रुपये इनाम देने की घोषणा की है। कर्नाटक के गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और मामले की जांच के लिए गठित पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) के सदस्यों के साथ बैठक के बाद इनामी राशि की घोषणा की। 

इसके साथ ही 21 सदस्यीय एसआईटी से संपर्क के लिए फोन नंबर और ईमेल आईडी जारी किया है, जिसपर लोग सूचना दे सकते हैं। बेंगलुरु पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से जारी संदेश में लोगों से अपील की कि वह मामले से जुड़ी कोई भी जानकारी फोन नंबर 09480800202 या ईमेल आईडी  sit.glankesh@ksp.gov.in पर साझा करें। 

NoFly List:फ्लाइट में किया हंगामा तो लग सकती है जिंदगी भर सफर पर रोक

एसआईटी इसके साथ ही गौरी लंकेश के घर और आसपास के इलाकों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को भी नए सिरे से खंगाल रही है। गौरी के घर पर लगे सीसीटीवी फुटेज में एक काले जैकेट और हेलमेट लगाया व्यक्ति उनपर गोलियां चलाता हुआ दिख रहा है। पुलिस का कहना है कि हेलमेट की वजह से उसकी पहचान करने में मुश्किल आ रही है। गौरी का घर पश्चिमी बेंगलुरु के भीड़भाड़ वाले राजराजेश्वरी वाले इलाके में है। इसके बावजूद अब तक कोई भी चश्मदीद गवाह सामने नहीं आया है। इस बीच, एसआईटी के सदस्य नए सिरे से गौरी के रिश्तेदारों और दोस्तों से पूछताछ कर रही है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Karnataka Government Announces rs 10 lakh reward for anyone who provides Clues in Gauri Lankesh Murder case