DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Karnataka floor test live updates: कर्नाटक के राज्यपाल ने स्पीकर को भेजा संदेश, कहा- विश्वास मत आज ही कराने पर करें विचार

1 / 3कर्नाटक: राज्यपाल को स्पीकर का संदेश, 'सदन में आज ही कराएं विश्वास मत'

                                                                              -

2 / 3कर्नाटक में सत्तारूढ़ जेडीएस-कांग्रेस सरकार आज फ्लोर टेस्ट का सामना करेगी

                                                                                                               ani

3 / 3कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी (ANI)

PreviousNext

Karnataka Floor Test LIve Updates: कर्नाटक में सत्तारूढ़ जेडीएस-कांग्रेस सरकार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट का सामना करने जा रही है। फ्लोर टेस्ट से पहले कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता येदियुरप्पा ने कहा कि हम 101 फीसदी आश्वस्त हैं। उनकी संख्या 100 से कम है और हम 105 हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है कि उनकी हार होगी। फ्लोर टेस्ट के दौरान बसपा विधायक एन महेश सदन में मौजूद नहीं हैं।

फ्लोर टेस्ट के दौरान कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने विधानसभा में कहा कि मैं सिर्फ इसलिए यहां नहीं आया हूं क्योंकि इस पर सवाल है कि मैं गठबंधन सरकार चला सकता हूं या नहीं। घटनाओं से पता चला है कि कुछ विधायकों द्वारा भी अध्यक्ष की भूमिका को खतरे में डाल दिया गया है।

वहीं, विश्वासमत से पहले बुधवार को जेडीएस-कांग्रेस सरकार का भविष्य अधर में लटकता दिखा क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को फैसला सुनाया कि कांग्रेस-जदएस के बागी 15 विधायकों को जारी विधानसभा सत्र की कार्यवाही में भाग लेने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता।

कांग्रेस के बागी विधायक बी सी पाटिल ने मीडिया को जारी एक वीडियो में कहा, हम माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्णय से खुश हैं, हम उसका सम्मान करते हैं। पाटिल के साथ कांग्रेस-जदएस के 11 अन्य विधायक भी थे जिन्होंने इस्तीफा दिया है। पाटिल ने कहा, ''हम सभी साथ हैं और हमने जो भी निर्णय किया है...किसी भी कीमत पर (इस्तीफों पर) पीछे हटने का सवाल ही नहीं उठता। हम अपने निर्णय पर कायम हैं। विधानसभा जाने का कोई सवाल नहीं है।

पढ़ें, Karnataka Floor Test LIVE UPDATES: 

- कांग्रेस ने मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी द्वारा लाए गए विश्वास प्रस्ताव को टालने की मांग करते हुए गुरुवार को कहा कि प्रदेश के सियासी संकट को लेकर उच्चतम न्यायालय के फैसले को देखते हुए विधानसभा अध्यक्ष जब तक व्हिप के मुद्दे पर फैसला नहीं कर लेते तब तक के लिये इसे अमल में न लाया जाए। 

- कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर से राज्यपाल ने कहा, 'विश्वास प्रस्ताव सदन में विचाराधीन है। मुख्यमंत्री से हर समय सदन का विश्वास बनाए रखने की अपेक्षा की जाती है। दिन के अंत तक विश्वास मत पर विचार करें।'

- कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि अगर हम विश्वास प्रस्ताव के लिए आगे बढ़ते हैं तो बागी विधायक सुप्रीम कोर्ट के आदेश के कारण सदन में नहीं आ पाएंगे। यह गठबंधन की सरकार के लिए बड़ा नुकसान होगा। कांग्रेस के एक अन्य नेता डी के शिवकुमार ने विधानसभा में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री होने के नाते, विपक्ष के नेता होने के नाते, वह (बीएस येदियुरप्पा) देश को गुमराह कर रहे हैं, अदालत को गुमराह कर रहे हैं।

-  कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा कि जब तक हमें सुप्रीम कोर्ट के पिछले आदेश के बारे में स्पष्टीकरण नहीं मिल जाता है, तब तक इस सत्र में फ्लोर टेस्ट कराना उचित नहीं होगा। यह संविधान के खिलाफ है। 

- कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी को कांग्रेस-जद(एस) गठगबंधन सरकार के महज 14 महीने पूरे होने के बाद ही गुरुवार को विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव रखना पड़ा। सत्तारूढ़ गठबंधन के विधायकों के एक वर्ग के बागी होने के बाद राज्य में सियासी संकट पैदा हो गया है। सत्तारूढ़ गठबंधन में संख्याबल कम होने पर कुमारस्वामी एक पंक्ति का प्रस्ताव लाये और उन्होंने कहा कि सदन ने उनके नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में विश्वास जताया।

फ्लोर टेस्ट के दौरान सदन में BSP विधायक एन महेश मौजूद नहीं हैं।

- कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने विधान सौध में कहा कि मैं सिर्फ इसलिए यहां नहीं आया हूं क्योंकि इस पर सवाल है कि मैं गठबंधन सरकार चला सकता हूं या नहीं। घटनाओं से पता चला है कि कुछ विधायकों द्वारा भी अध्यक्ष की भूमिका को खतरे में डाल दिया गया है।

- फ्लोर टेस्ट से पहले कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता येदियुरप्पा ने कहा कि हम 101 फीसदी आश्वस्त हैं। उनकी संख्या 100 से कम है और हम 105 हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है कि उनकी हार होगी।

बेंगलुरु: कांग्रेस के नेता सिद्धरमैया विधानसौधा पहुंचे। कर्नाटक सरकार को आज फ्लोर टेस्ट का सामना करना है।

- कर्नाटक में बीजेपी के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा और बीजेपी विधायक बेंगलुरू में स्थित विधानसौधा पहुंचे। कर्नाटक की सत्तारूढ़ जेडीएस-कांग्रेस सरकार को आज फ्लोर टेस्ट का सामना करना है।

- कर्नाटक में संकट से घिरी गठबंधन सरकार को थोड़ी राहत देते हुए कांग्रेस विधायक रामालिंगा रेड्डी ने बुधवार को कहा कि उन्होंने विधानसभा से अपना इस्तीफा वापस लेने का फैसला किया है और वह मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी द्वारा रखे जाने वाले विश्वास मत के समर्थन में मतदान करेंगे। रेड्डी ने यहां पीटीआई को बताया कि वह कल विधानसभा सत्र में शामिल होंगे और कांग्रेस के पक्ष में मतदान करेंगे। मैं पार्टी में रहूंगा और विधायक के तौर पर सेवाएं दूंगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:karnataka floor test live updates jds congress government have to face floor test today get latest updates on kumarswamy government