DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कर्नाटक संकटः सिद्धरमैया को विश्वासमत जीतने का भरोसा

सिद्धारमैया

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सिद्धरमैया ने शुक्रवार को कहा कि एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार द्वारा विश्वास मत हासिल किये जाने का फैसला दोनों सत्ताधारी सहयोगियों द्वारा लिया गया है और कहा कि उनके पास जरूरी आंकड़े हैं। 

कांग्रेस विधायक दल के नेता ने यह भी कहा कि वह रोशन बेग को छोड़कर असंतुष्ट पार्टी विधायकों से बात कर रहे हैं। बेग के पार्टी से निलंबित होने की वजह से उनसे बात नहीं की जा रही है। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि कल यहां चर्चा के बाद हमनें यह (विश्वास मत का) फैसला लिया। सत्ताधारी गठबंधन के 16 विधायकों के इस्तीफा देने के बाद सरकार गिरने के कगार पर है लेकिन कुमारस्वामी ने शुक्रवार को विधानसभा में घोषणा की कि वह विश्वास मत हासिल करना चाहेंगे। 

एक सवाल के जवाब में सिद्धरमैया ने कहा कि जरूरी आंकड़े या भरोसा न होने पर कोई भी विश्वास मत हासिल करने की पहल नहीं करेगा। उन्होंने कहा, “हमें भरोसा है, इसलिये हम विश्वास प्रस्ताव ला रहे हैं।” सत्ताधारी गठबंधन बहुमत कैसे हासिल करेगा, इस सवाल पर सिद्धरमैया ने कहा, “आप इसका खुलासा कैसे कर सकते हैं? यह आपको तब पता चलेगा जब विश्वास मत का प्रस्ताव लाया जाएगा। यह कैसे होगा, कौन मौजूद रहेगा इन चीजों का खुलासा अभी नहीं किया जा सकता।”

एक सवाल के जवाब में उन्होंने भाजपा के कथित तख्तापलट अभियान के पलटवार के तौर पर जवाबी-अभियान चलाए जाने की आशंका को खारिज करते हुए कहा कि उनकी पार्टी अभियानों में विश्वास नहीं रखती। उन्होंने इस मामले में न्यायालय द्वारा दिये गए यथास्थिति के आदेश पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। सिद्धरमैया ने हालांकि यह जरूर कहा कि विधानसभा अध्यक्ष दल-बदल विरोधी कानून के तहत विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेने के लिये सक्षम है। 

कभी ताकतवार रही कांग्रेस अब गोवा में लड़ रही है वजूद की लड़ाई

भारतीय सीमा में चीनी घुसपैठ की रिपोर्ट से सेना का इनकार

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Karnataka crisis Siddharamaiahs confidence to win trust