DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  वैलेंटाइन डे पर​​​​​​​ कांग्रेस नेता की बेटी का हुआ भाजपा नेता के नाती संग 'गठबंधन', शादी के बंधन में बंधे दोनों

देशवैलेंटाइन डे पर​​​​​​​ कांग्रेस नेता की बेटी का हुआ भाजपा नेता के नाती संग 'गठबंधन', शादी के बंधन में बंधे दोनों

एजेंसी,बेंगलुरु।Published By: Himanshu Jha
Mon, 15 Feb 2021 08:20 AM
वैलेंटाइन डे पर​​​​​​​ कांग्रेस नेता की बेटी का हुआ भाजपा नेता के नाती संग 'गठबंधन', शादी के बंधन में बंधे दोनों

चुनावी मैदान में आपने भाजपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन की बात शायद ही सुनी होगी, लेकिन निजी जिंदगी में ऐसा संभव हुआ है। जी हां, कांग्रेस नेता की बेटी और भाजपा नेता के नाती ने प्यार का गठबंधन किया है। दोनों वैलेंटाइन डे के मौके पर शादी के बंधन में बंधे हैं। हम बात कर रहे हैं कर्नाटक कांग्रेस के कद्दावर नेता और प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार और भाजपा नेता एसएम कृष्णा की, जो कल एक-दूसरे के रिश्तेदार बना गए हैं।

वैलेंटाइन डे पर कांग्रेस नेता और कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डीके शिवकुमार की बेटी की शादी हुई। ऐश्वर्या का रिश्ता जानी-मानी कॉफी चेन सीसीडी के दिवंगत संस्थापक वीजी सिद्धार्थ के बेटे अमृत्य हेगड़े के साथ हुआ है। बता दें कि अमृत्य हेगड़े वरिष्ठ भाजपा नेता एसएम कृष्णा के नाती हैं।

विवाह कार्यक्रम कर्नाटक के बेंगलुरु स्थित एक निजी होटल में धूमधाम से हुआ। समारोह में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी भी पहुंचे थे। जानकारी के मुताबिक, दोनों की शादी पारंपरिक तौर-तरीके से हुई है। आयोजन में कई कांग्रेसी और भाजपा नेता भी शामिल हुए, जिन्होंने वर-वधु को आशीर्वाद दिया।

थाइलैंड: हाथी पर बैठकर 59 जोड़ों ने रचाई शादी
थाईलैंड के पूर्व प्रांत में बोटेनिकल गार्डन में एक वार्षिक वैंलेंटाइन डे सामूहिक विवाह समारोह के दौरान हाथी की सवारी करते हुए 59 जोड़े शादी के बंधन में बंधे। नर्तकियों और एक बैंड ने हाथियों पर बैठे जोड़ों का स्वागत किया। विवाह के पंजीकरण हेतु संबंधित अधिकारी ने भी समारोह में शिरकत की। यह चोनबुरी प्रांत के नोंग नूच ट्रॉपिकल गार्डन में होने वाला एक वार्षिक कार्यक्रम है, जो हर साल लगभग 100 जोड़ों को आकर्षित करता है। हालांकि कोरोना महामारी के चलते संख्या में कमी आई है। शादी के बंधन में बंधे 26 वर्षीय पाटीफथ पैंथानॉन नामक एक शख्स ने कहा, मैं लंबे समय से विचार कर रहा था कि अनोखे तरीके से और किसी खास मौके पर अपना घर बसाऊं। इससे बेहतर अवसर भला कौन सा होता।

 

संबंधित खबरें