ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशकर्नाटक में DK शिवकुमार का रास्ता साफ करेंगे सिद्धारमैया! खुद ही दिए रिटायरमेंट के संकेत

कर्नाटक में DK शिवकुमार का रास्ता साफ करेंगे सिद्धारमैया! खुद ही दिए रिटायरमेंट के संकेत

क्या कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया आने वाले समय में डिप्टी सीएम डीके शिवकुमार के लिए रास्ता साफ कर देंगे। ऐसा सवाल इसलिए उठने लगा है क्योंकि उन्होंने खुद ही रिटायरमेंट के संकेत दे दिए हैं।

कर्नाटक में DK शिवकुमार का रास्ता साफ करेंगे सिद्धारमैया! खुद ही दिए रिटायरमेंट के संकेत
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,बेंगलुरुTue, 02 Apr 2024 05:40 PM
ऐप पर पढ़ें

कर्नाटक के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद सीएम पद को लेकर संघर्ष छिड़ गया था। कई दिनों तक खींचतान के बाद हाईकमान डीके शिवकुमार को राजी कर पाया था और फिर सिद्धारमैया को एक बार फिर मुख्यमंत्री का पद मिल गया। अब भी डीके शिवकुमार के समर्थक अकसर अपना दुख जाहिर करते रहते हैं। इस बीच सिद्धारमैया का एक बयान डीके शिवकुमार के समर्थकों को राहत दे सकता है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी के करीबी डीके शिवकुमार आज भी कर्नाटक की राजनीति में एक ध्रुव हैं।

अब सिद्धारमैया ने रिटायरमेंट के संकेत दे दिए हैं। उन्होंने मैसुरु में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि वह भविष्य में कोई भी चुनाव नहीं लड़ना चाहेंगे। इसकी वजह यह है कि उनकी उम्र बढ़ रही है और स्वास्थ्य की समस्याएं हैं। दरअसल उनसे पूछा गया था कि क्या वह फिर से विधानसभा चुनाव में वरुणा सीट से लड़ेंगे। इसके जवाब में उन्होंने अपने रिटायरमेंट प्लान का ही संकेत दे दिया। 77 साल के नेता ने कहा कि मेरी उम्र बढ़ रही है। मैं आने वाले समय में कितने दिनों तक इसी ऊर्जा के साथ काम कर सकूंगा, यह अहम सवाल है। 

उन्होंने कहा, 'मेरी उम्र 77 साल हो गई है। सीएम और विधायक के तौर पर अभी मेरा 4 साल का यह कार्यकाल बचा है। जब तक मेरा यह कार्यकाल समाप्त होगा, मेरी उम्र 81-82 होगी। ऐसे में मैं उस उम्र में कैसे उसी ऊर्जा के साथ काम कर पाऊंगा।' सिद्धारमैया ने कहा कि मैंने 1978 में राजनीति में एंट्री की थी और रिटायरमेंट तक मेरे 50 साल ही पूरे हो जाएंगे। दरअसल कर्नाटक में बीते कुछ समय से लगातार कयास लग रहे हैं कि लीडरशिप में चेंज हो सकता है। उन्होंने अपनी वरुण विधानसभा सीट की जनता से अपील करते हुए कहा कि लोकसभा इलेक्शन में कांग्रेस कैंडिडेट को यहीं से 60 हजार वोटों की लीड मिल जाए। ऐसा हुआ तो फिर जीत आसान हो जाएगी।

बता दें कि डीके शिवकुमार प्रदेश अध्यक्ष हैं और फिलहाल डिप्टी सीएम भी हैं। माना जाता है कि उनके मुख्यमंत्री न बन पाने के चलते ही कांग्रेस लीडरशिप ने उन्हें दो अहम पद दे रखे हैं। शिवकुमार ने कभी अपनी सीएम बनने की महत्वाकांक्षा को छिपाया भी नहीं है। वह वोक्कालिगा समुदाय से आते हैं, जिसमें उनकी अच्छी खासी लोकप्रियता भी है। उन्होंने अपनी बिरादरी को संबोधित करते हुए पिछले दिनों कहा भी था कि आपका समर्थन बेकार नहीं जाएगा। बता दें कि कर्नाटक में बीते साल ही चुनाव हुए थे, जिसमें कांग्रेस ने बड़े अंतर से जीत हासिल की थी।

Advertisement