DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना ने लिया पुलवामा का बदला, जैश का वह आतंकी ढेर, जिसने दी थी हमले के लिए कार

  two terrorists killed by security forces in shopian jammu and kashmir

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद (जेईएम) का एक आतंकी और उसका एक सहयोगी मारा गया। पुलवामा हमले में इस्तेमाल के लिए इस आतंकी ने एक कार मुहैया करायी थी। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुबह में दक्षिण कश्मीर जिले के बिजबेहरा इलाके में इस अभियान में एक सैनिक भी शहीद हो गया।

एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में मिली खुफिया सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों ने आज सुबह घेराबंदी और तलाश अभियान शुरू किया जिसके बाद आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चला दी। अधिकारी ने बताया, ''बिजबेहरा में अभियान में दो आतंकवादी मारे गए। उनकी पहचान सजाद भट और तौसीफ भट के रूप में की गई है। वे जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन से जुड़े थे।

यह भी पढ़ें: अनंतनाग एनकाउंटर में शहीद हुए मेजर केतन शर्मा को दी गई अंतिम सलामी

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में एक जवान घायल हो गया था जिसकी बाद में अस्पताल में मौत हो गई। अधिकारी ने बताया कि कई आतंकी अपराधों में शामिल रहने के अलावा सजाद भट 14 फरवरी को पुलवामा के लेथपोरा इलाके में आत्मघाती कार विस्फोट के सिलसिले में भी वांछित था। हमले में केन्द्रीय रिर्जव पुलिस बल के 40 जवान शहीद हो गए थे।

छानबीन के दौरान मिले सबूत से पता चला कि बिजबेहरा इलाके के मरहामा गांव के निवासी सजाद भट की मारूति इको गाड़ी का विस्फोट में इस्तेमाल हुआ था। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि अपनी संलिप्तता की खबर फैलने के बाद सजाद भट फरार हो गया था और जेईएम से जुड़ गया। एके-47 राइफल लिए हुए उसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर फैली थी।

अधिकारी ने बताया कि तौसीफ भट ने जेईएम में सजाद भट को शामिल कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी थी। अधिकारियों ने बताया था कि सोमवार को अनंतनाग जिले में आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना के एक मेजर शहीद हो गये थे और एक अन्य अधिकारी एवं दो जवान घायल हो गए थे। एक आतंकवादी भी मारा गया था।

यह भी पढ़ें: शहीद मेजर केतन शर्मा ने ऐसा दिया आतंकियों को जवाब,पढ़ें शौर्य की कहानी

सोमवार को ही पुलवामा जिले में आईईडी (इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) लगे एक वाहन के जरिए आतंकवादियों ने धमाका किया था जिसमें नौ जवान और दो नागरिक घायल हो गए थे। घायल जवानों में दो की मंगलवार को मौत हो गई। बाकी जवानों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। यह विस्फोट उस इलाके से 27 किलोमीटर दूर हुआ, जहां 14 फरवरी का आत्मघाती हमला हुआ था।

पिछले सप्ताह, बुधवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने अनंतनाग में अर्द्धसैन्य बल के एक गश्ती दल पर हमला किया, जिसमें सीआरपीएफ के पांच जवान शहीद हो गए। हमले के तुंरत बाद घटनास्थल पर पहुंचे जम्मू कश्मीर पुलिस के एक अधिकारी को बुलेट प्रूफ वाहन से बाहर निकलते ही गोलियों से भून दिया गया था। उन्हें दिल्ली एम्स लाया गया लेकिन रविवार को उनकी मौत हो गई। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:JeM terrorist Sajjad Bhatt whose car was used in Pulwama attack killed in Anantnag encounter