JeM chief Masood Azhar brother-in-law was target of Indian Air Force strike in Balakot - बालकोट IAF हवाई हमले में निशाने पर था जैश चीफ मसूद अजहर का बहनोई DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बालकोट IAF हवाई हमले में निशाने पर था जैश चीफ मसूद अजहर का बहनोई

Masood Azhar (L), chief of the Jaish-e-Mohammad (JeM), addressing a press conference in Karachi. (AF

भारतीय वायुसेना (Indian Airforce) की तरफ से पाकिस्तान (Pakistan) के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत में बालाकोट में हवाई हमले के दौरान निशाने पर था जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर का बहनोई मौलाना यूसुफ अजहर उर्फ उस्ताद घुआरी।

यह हवाई हमला 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर किए गए आतंकी हमले के बाद किया गया है, जिसमें मंगलवार तड़के सीमा पार जाकर आतंकियों के ठिकानों को नष्ट किया गया।

बालाकोट के पहाड़ी इलाकों पर सुनसान जगह में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के इस आतंकी कैम्प पर भारतीय वायुसेना का ऑपरेशन काफी चुनौती भरा था और उसके लिए बेहद चौकसी की जरूरत थी।

भारतीय वायुसेना की तरफ से इस ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए लेजर गाइडेड मिराज-2000 लड़ाकू विमान का इस्तेमाल कर आतंकी ठिकानों पर बम गिराए गए। 1999 करगिल युद्ध के दौरान मिराज-2000 काफी सफल रहा है।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान की गीदड़भभकी, बोला- समय और जगह देखकर देंगे जवाब

नई दिल्ली में सुरक्षा मामलों की समिति की बैठक (सीसीएस) के बाद विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा- “बालाकोट ने बड़ी संख्या में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों, ट्रेनर्स और सीनियर ट्रेनर्स को मार दिया गया। यह कैम्प जैश चीफ मसूद अजहर के बहनोई मौलाना यूसुफ अजहर उर्फ उस्ताद घुआरी के नेतृत्व में चलाया जा रहा था।”

यूसुफ अजहर उन आतंकियों में एक था जिसने काठमांडू से नई दिल्ली जा रहे भारतीय विमान आईसी 814 का अपहरण कर लिया था। उसके बाद उसे आतंकी कंधार लेकर चले गए थे।

गोखले ने कहा- “लक्ष्य यहां पर बनाने का हमारा मकसद ये था कि नागरिकों की क्षति न हो। यह सुनसना पहाड़ी इलाकों में बना हुआ है।” यह कैम्प इस्लामाबाद से करीब 195 किलोमीटर और मुजफ्फराबाद से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित था।

ये भी पढ़ें: IAF ने बालाकोट में जैश के सबसे बड़े आतंकी ठिकाने को किया तबाह

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:JeM chief Masood Azhar brother-in-law was target of Indian Air Force strike in Balakot